शहर चुनें close

अब रेलवे ड्राइवर्स को फ्रेश होने के लिए नहीं करना होगा ट्रेन रुकने का इंतजार, मिला एयरकंडीशन और बायो टॉयलेट से लैस इंजन

By: Inextlive | Publish Date: Fri, 19 Apr 2019 08:30:37 (IST)
रेलवे जहां पैसेंजर्स की सुविधाओं का ख्याल रख रहा है, वहीं अपने एंप्लॉइज पर भी उसका अब पूरा ध्यान है. पैसेंजर्स की सुविधा के लिए जहां स्पेशल स्टैंडर्ड के एलएचबी कोच ट्रेन में लगने शुरु हुए हैं, तो वहीं रेलवे स्टेशन पर भी लगातार सुविधाएं बढ़ाई जा रही हैं. इन सबके बीच अब अपनी ट्रेन के 'खेवनहार' यानि कि लोको पायलट्स की सुविधाओं पर भी रेलवे ने ध्यान देना शुरू कर दिया है. रेलवे की ओर से गुड्स ट्रेन के लिए डेवलप की जा रही फ्रेट कॉरिडोर पर अब एयरकंडीशन के साथ बायो टॉयलेट युक्त इंजन चलाने की तैयारी की गई है. इसके तहत पहले फेज में इंडियन रेलवे ने 50 इंजन मंगवाए हैं, जिसमें से एनई रेलवे को भी एक इंजन मिला है. इनकी खासियत यह है कि इनमें एयरकंडीशन केबिन बने हैं. इससे गर्मी के सीजन में लोको पायलट्स को लू के थपेड़ों से आजादी मिलेगी. इसके अलावा इनमें बैठने वाले लोको पायलट्स को फ्रेश होने के लिए अगले स्टेशन का इंतजार नहीं करना पड़ेगा. अगर वह किसी जगह रुके हुए हैं, तो वहीं पर ट्रेन में ही फ्रेश हो सकेंगे. खास बात यह कि अगर ट्रेन रुकी हुई है और ड्राइवर ने टॉयलेट को अंदर से बंद किया है, तो ट्रेन में ऑटोमेटिक ब्रेक लग जाएगा, जिससे कि ट्रेन आगे नहीं बढ़ेगी।
Loading...
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK