कानपुर। टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली शानदार खेल के अलावा फिटनेस को लेकर भी जाने जाते हैं। कोहली भारतीय टीम के सबसे फिटेस्ट खिलाड़ियों में शामिल हैं। विराट हमेशा से ऐसे नहीं थे, इसके लिए उन्होंने काफी मेहनत की। इसमें उनका डाइन प्लाॅन भी शामिल है। 2018 से कोहली ने नाॅनवेज खाना छोड़ दिया। अब वह पूरी तरह से वेजिटेरियन हैं। इसका असर उनकी जिंदगी पर भी पड़ा। इस बात का खुलासा कोहली ने बुधवार को एक ट्वीट कर किया।

इतना अच्छा पहले कभी महसूस नहीं किया
विराट ने टि्वटर पर लिखा, 'नेटफ्लिक्स पर गेम चेंजर्स देखी। एक वेजिटेरियन एथलीट के तौर पर मुझे एहसास हुआ कि इतने सालों से जो मैं डाइट के बारे में सोचता था वो एक भ्रम था। क्या गजब की डॉक्युमेंट्री है मैंने कभी वेजिटेरियन बनने के बाद अपने जीवन में इतना अच्छा महसूस नहीं किया।' बता दें गेम चेंजर्स एक डाॅक्यूमेंट्री है जिसमें एथलीटों को शाकाहारी खाने के फायदे के बारे में बताया गया है।


विराट ने अफ्रीफा का किया सफाया

भारत बनाम साउथ अफ्रीका के बीच खेली गई तीन मैचों की टेस्ट सीरीज टीम इंडिया ने अपने नाम की। सीरीज का आखिरी मुकाबला रांची में खेला गया। जहां भारत ने चौथे दिन ही मेहमानों का सफाया कर तीसरा टेस्ट अपने नाम किया। इससे पहले विराट सेना ने विशाखापत्तनम और पुणे टेस्ट में प्रोटीज को मात दी थी। इसी के साथ विराट कोहली ने बतौर कप्तान तीसरी बार किसी टीम का टेस्ट सीरीज में क्लीन स्वीप किया है और वह ऐसा करने वाले पहले भारतीय कप्तान हैं।

विराट का पांच टेस्ट सेंटर का प्लाॅन
टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली मानते हैं कि भारत में सिर्फ पांच जगहों पर टेस्ट मैच होने चाहिए। भविष्य में बीसीसीआई अगर होम सीरीज प्लाॅन करता है तो एक बार इस पर जरूर विचार करे। कोहली को यह आइडिया तब आया, जब रांची में दर्शकों की ज्यादा भीड़ जमा नहीं हो पाई। ऐसे में विराट इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया माॅडल को फाॅलो करना चाहते हैं। बता दें ऑस्ट्रेलिया में जब कोई बड़ी टीम मैच खेलने जाती है तो सिर्फ पांच जगहों पर टेस्ट मैच होते हैं। इसमें मेलबर्न, सिडनी, पर्थ, बि्रसबेन और एडीलेड शामिल हैं। इसी की तरह इंग्लैंड में सिर्फ लाॅर्ड्स, ओवन, ट्रेंट ब्रिज, ओल्ड ट्रेफर्ड, एजबेस्टन, साउथैप्टन और हेडिंग्ले में टेस्ट मैच होते हैं।

 

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

Cricket News inextlive from Cricket News Desk