- आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने स्वयंसेवकों को पढ़ाया पाठ, गणवेशधारियों से पटा निराला नगर रेलवे ग्राउन्ड

- बोले, देश का भाग्य, हमें ही बनाना पड़ेगा, कोई दूसरा हमारा भाग्य नहीं बनाएगा

KANPUR@inext.co.in

KANPUR। बहुत से लोग संघ पर शक्ति प्रदर्शन करने का आरोप लगाते हैं। शक्ति प्रदर्शन की जरूरत उसे होती है, जिसके पास शक्ति नहीं होती। संघ तो वैसे भी शक्तिशाली है। इसलिए हम आत्म परीक्षण और चिंतन करते हैं। अनुशासन व संयम का प्रदर्शन करते हैं। ये बातें राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने निराला नगर रेलवे ग्राउन्ड में स्वयंसेवकों को संबोधित करते हुए कही।

संघ के पास अपनी शक्ति

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ कानपुर प्रान्त के राष्ट्र रक्षा संगम संघ को संबोधित करते हुए आरएसएस प्रमुख ने कहा कि ऐसे कार्यक्रमों का उद्देश्य अनुशासन एवं आत्म संयम को परखना होता है। हम जानते हैं कि हम और हमारे देश का भाग्य, हमें ही बनाना पड़ेगा। कोई दूसरा हमारा भाग्य नहीं बनाएगा। संघ खुद में बहुत शक्तिशाली संगठन है। स्वयंसेवकों को ऐसी सभाओं की आदत है। संघ के पास अपनी शक्ति है, जिसके जरिए संघ आगे बढ़ रहा है।

हमारे स्वार्थ ने हमें गुलाम बनाया

संघ प्रमुख मोहन भागवत ने कहा कि इतिहास में हम किसी भी देश से कमजोर नहीं थे। हमारा देश दुनिया में कभी भी पीछे नहीं था। हम बलवान और प्रतिभावान थे, लेकिन हजारों साल पहले विदेशी आक्रमणकारी आए। उन्होंने हमें गुलाम बनाया। दरअसल हम गुलाम अपनी कमजोरी से नहीं बल्कि अपने स्वार्थ की वजह से बने। स्वार्थ व बंटे होने की वजह से ही हम हजारों साल गुलाम बने रहे। संविधान निर्माता डॉ। अम्बेडकर ने अपने भाषण में एक बार कहा था कि हमारे स्वाथरें, भेदों, दुर्गुणों के चलते हमने अपने देश को विदेशियों के सामने चांदी की तस्तरी में पेश कर दिया। उन्होंने कहा कि जब तक स्वार्थो से ऊपर उठकर बंधु भाव से समाज नहीं बनाते तब तक संविधान हमारी रक्षा नहीं कर सकता। सम्पूर्ण समाज को एक करना, गुण सम्पन्न, संगठित करना संघ का मुख्य उद्देश्य है। समाज देश के भाग्य परिवर्तन की मूलभूत आवश्यकता है। भविष्य में हम गुलाम न बनें, इसके लिए संघ के स्वयंसेवक पूरी तरह से तैयार हैं।

व्यक्ति परिवर्तन का प्रयास करें

संघ प्रमुख ने कहा कि स्वयंसेवकों को नित्य शाखा में जाना चाहिए और देश समाज का निर्माण करने का काम करना चाहिए। पहले अपने परिवार का वातावरण बदलें। परिवार में स्वदेशी का भाव आएगा। व्यक्ति परिवर्तन का प्रयास करेंगे, तभी समाज परिवर्तन हो पाएगा। संघ की योजना से कोई छोटा, बड़ा नहीं होता। यह काम हम जितने लगन से करेंगे, भारत को परम वैभव उतना ही जल्दी प्राप्त होगा। समाज में परिवार को उदाहरण के रूप में रखना होगा। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से डॉ। ईश्वर चन्द्र गुप्त, वीरेन्द्र पराक्रमादित्य, अर्जुन दास खत्री, अरविन्द मेहरोत्रा, मधु भाई कुलकर्णी, अनिल, राम कुमार आदि लोग मौजूद रहे।

बाल गणवेशधारियों ने भी दिखाया उत्साह

KANPUR। निराला नगर ग्राउन्ड संघ प्रमुख को सुनने के लिए बाल गणवेशधारियों की भी अच्छी संख्या थी। रेलवे ग्राउन्ड गणवेशधारियों से खचाखच भरा था। दोपहर ख्.फ्म् मिनट पर भागवत ग्राउन्ड में दाखिल हुए। दोपहर फ् बजे से लेकर फ्.ब्भ् मिनट तक उन्होंने संबोधित किया। स्वयंसेवकों ने ग्राउन्ड में कौशल प्रदर्शन किया। कार्यक्रम की शुरुआत संघ के प्रार्थना गीत से हुई। मैदान में पानी की किल्लत रही।

Posted By: Inextlive