कानपुर। देश के कुछ इलाकों में जहां आंधी-पानी के बाद लोगों को गर्मी से थोड़ी राहत मिली है, वहीं देश के दक्षिण में केरल के लोगों का मानसून के लिए इंतजार खत्म होने के आसार हैं. हालांकि, उत्तर और पश्चिमी भारत में रहने वालों को गर्मी से अभी पूरी तरह राहत नहीं मिलने वाली है। वहीं मानसून के लिए उनका इंतजार भी जारी रहेगा। भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक दक्षिण पूर्व मानसून केरल में शनिवार को कभी भी दस्तक दे सकता है। आमतौर पर राज्य में मानसून एक जून तक आ जाता है लेकिन इस बार यह करीब एक हफ्ता लेट हो गया है।

इन राज्यों को गर्मी से नहीं मिलेगी राहत

अरब सागर में केरल और कर्नाटक के तटीय सीमा के निकट कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है। अगले 48 घंटों में दक्षिण पूर्व मानसून नार्थ ईस्ट के कुछ राज्यों में भी पहुंच सकता है। अगले चार पांच दोनों में असम, मेघालय, त्रिपुरा, नागालैंड और मिजोरम के कई इलाकों में तेज बारिश हो सकती है। अगले 4-5 दिनों तक राजस्थान व मध्य प्रदेश को भीषण गर्मी से राहत मिलने के आसार नहीं हैं। महाराष्ट्र के विदर्भ में भी गर्मी का कहर जारी रहने के आसार हैं। उतर भारत में मानसून के लिए अभी इंतजार करना होगा। यहां अधिकत्तम तापमान 40 डिग्री और उससे अधिक रहेगा।

दिल्ली पहुंचने में होगी देरी

इसके अलावा दिल्ली में मानसून पहुंचने को लेकर मौसम वैज्ञानिक कुलदीप श्रीवास्तव का कहना है कि सामान्यत: मानसून जून के आखिरी यानी कि 29 जून तक दिल्ली पहुंच जाता है लेकिन इस बार दक्षिणी प्रायद्वीप में मानसून की शुरुआत में देरी होने के कारण इसके दिल्ली पहुंचने में दो से तीन दिन की देरी हो सकती है।

Posted By: Mukul Kumar

National News inextlive from India News Desk