कानपुर। उत्तर भारत व पूर्वोत्तर भारत में माैसम तेजी से बदल रहा है। अगले 2-3 दिनों के दौरान उत्तर भारत में पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ और पश्चिम उत्तर प्रदेश में भारी बारिश की संभवावना है। वहीं पूर्वोत्तर में असम, मेघालय, अरुणाचल प्रदेश और नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम में अगले 4-5 दिनों में बारिश की गति थोड़ी कम होगी।

भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना
दक्षिण पश्चिम मानसून की गति अगले 3-4 दिनों के दौरान दक्षिण और मध्य अरब सागर में मजबूत होने की संभावना है। मानसून की जोदार सक्रियता से 18 से 20 जुलाई के दौरान इससे सटे व करीबी इलाकों में भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना है। इसमें तमिलनाडु, कर्नाटक व केरल में अधिकांश जिले भारी बारिश की चपेट में रहेंगे।

पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली भीगेंगे

आज केरल, माहे और तटीय कर्नाटक में भारी से बहुत भारी बारिश की संभावना है। पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली और पश्चिमी यूपी में भी भारी बारिश की आशंका है। वहीं तमिलनाडु, पुडुचेरी, कराईकल, लक्षद्वीप, दक्षिण आंतरिक कर्नाटक, तटीय आंध्र प्रदेश, यनम, रायलसीमा, कोंकण, गोवा, और ओडिशा में भी आज भारी बारिश के आसार हैं।

यहां समुद्री हवाएं आज काफी तेज चलेंगी

वहीं भारतीय माैसम विभाग के मुताबिक आज समुद्री हवाएं 40-50 किमी प्रति घंटे के हिसाब से चलेंगी। ऐसे में मध्य अरब सागर, गुजरात, महाराष्ट्र तट, मालदीव क्षेत्र, लक्षद्वीप, केरल तट, उत्तर अंडमान सागर और पूर्वी बंगाल की खाड़ी से सटे इलाकों में हवाओं का असर रहेगा। मछुआरों को इन क्षेत्रों में प्रवेश न करने की सलाह दी जाती है।

National News inextlive from India News Desk