पणजी (आईएएनएस)। चक्रवात वायु गुजरात तट को छू कर निकल गया है लेकिन इसने मानसून को प्रभावित कर दिया है। वहीं भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) के राज्य के निदेशक केवी पद्गलवार ने इस संबंध में गुरुवार को जानकारी देते हुए कहा है कि चक्रवात ने गोवा में मानसून की शुरुआत में ही देरी की है। उन्होंने यह भी कहा कि बीते दिनों हमने कहा था कि मानसून 12 से 15 जून के बीच सक्रिय होगा, लेकिन अब चक्रवात वायु के कारण मानसून के आने में अभी कुछ और दिनों की देरी होगी।

इन राज्यों का गर्मी व लू से होगा बुरा हाल

वहीं भारतीय माैसम विभाग की मानें तो उत्तर भारत में अभी भी मिजाज बिगड़ा रहेगा।  कई राज्य हीट वेव यानी कि लू व गर्मी से से बेहाल रहेंगे। सबसे ज्यादा बुरा हाल मध्य प्रदेश, पश्चिम राजस्थान और चंडीगढ़ का रहेगा। इसके अलावा छत्तीसगढ़, विदर्भ, तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, तमिलनाडु और पुदुचेरी में भी कुछ जगहों पर लोग बेहाल रहेंगे। छत्तीसगढ़, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल में धूल भरी तेज हवाओं के साथ बिजली चमकने की भी संभावना है।

तेज हवाओं व बारिश से भीगेंगे ये राज्य

नार्थईस्ट में असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, अरुणाचल प्रदेश और त्रिपुरा में तेज हवाओं संग भारी बारिश व दक्षिण पश्चिमी तटीय इलाकों, गुजरात, कोकंण, गोवा  सौराष्ट्र और कच्छ में भी कई इलाके बारिश से सराबोर रहेंगे। वहीं कर्नाटक, दक्षिण आंतरिक कर्नाटक, केरल और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह मेें भी बारिश की संभावना है। गुजरात तट के आसपास अरब सागर में मछुआरों को न जाने की सलाह दी गई है। अरब सागर से जुड़े जो पश्चिमी तट हैं वहां पर ज्वार की ऊंची-ऊंची लहरें उठेंगी।

Posted By: Shweta Mishra

National News inextlive from India News Desk

inext-banner
inext-banner