कानपुर। उत्तरी पाकिस्तान में इन दिनों वेस्टर्न डिस्टर्बेंस की वजह से हिमालय के कुछ इलाकाें में इसका असर साफ देखने को मिल रहा है।  जम्मू-कश्मीर, लेह, लद्दाख, श्रीनगर और उसके पड़ोसी इलाकों में हवाओं की गति काफी तेज रहेगी।  भारतीय माैसम विभाग के मुताबिक इसकी वजह से दिल्ली, हरियाणा, उत्तराखंड व उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में ठंड काफी तेजी से बढ़ेगी। पाकिस्तान के अलावा एक फ्रेेश वेस्टर्न डिस्टर्बेंस अफगानिस्तान में होने से उससे सटे भारतीय इलाके प्रभावित रहेंगे।

उत्तर भारत में भी कोहरे की चादर चढ़ी रहेगी

वहीं कोहरे पर नजर डालें तो पूर्वोत्तर भारत के अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में घना कोहरा छाया रहेगा। यहां अगले 5 दिनों तक यहां ऐसे ही आसार रहने की संभावना है।  इसके अलावा उत्तर भारत में भी कोहरे की चादर चढ़ने लगी है।  हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली और पश्चिम उत्तर प्रदेश में अगले 2 दिनों तक घना कोहरा छाया रहेगा। इसके अलावा इन दिनों दक्षिण पूर्वी बंगाल की खाड़ी और उससे जुड़े उत्तरी अंडमान द्वीप समूह में लो प्रेशर बना है।  

अंडमान द्वीपसमूह पर भारी बारिश की संभावना

दक्षिण पूर्वी बंगाल की खाड़ी के बीच में लो प्रेशर की वजह से इसके आसपास के इलाकों मेें व दक्षिण प्रायद्वीपीय भारत मेें दबाव रहेगा। इसकी चपेट में अंडमान, चेन्नई और आंध्र प्रदेश के कुछ एक इलाके रहेंगे। अंडमान द्वीपसमूह पर अलग-अलग जगहों पर भारी बारिश की संभावना बनी है। वहीं अगले 24 घंटों के दौरान यहां चक्रवातीय हवाएं चलने से स्थितियां गंभीर होने की आशंका है। मौसम वैज्ञानिकाें ने मछुआरों को 12 नवंबर गहरे समुद्र में न जाने की सलाह दी है।

Posted By: Shweta Mishra

National News inextlive from India News Desk

inext-banner
inext-banner