- 24 अप्रैल को बनाए गए थे हॉट स्पाट, 28 दिन की होती है टाइम लाइन

शहर के दो एरिया के लोग अब आजादी चाहते हैं। यहां हॉटस्पाट की टाइम लाइन भी पूरी हो चुकी है। लोग लंबे समय से घरों में रहने को मजबूर हैं। बाहरियों के आने पर नजर रखी जा रही है। जबकि यहां पाए गए मरीज पूरी तरह ठीक हो चुके हैं और घर पर अपना क्वारंटीन पीरियड भी लगभग पूरा कर चुके हैं। बात हो रही है शिवकुटी के शंकरघाट और शंकरगढ के कपारी गांव की। इन दोनों एरिया को हॉट स्पाट बनाए लंबा अरसा हो चुका है और अब इन्हें सूची से बाहर करने का समय भी आ चुका है।

मिले थे तीन मरीज

24 अप्रैल को शंकरगढ़ के कपारी गांव में दो भाई कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे।

इसके बाद गांव को पूरी तरह से सील कर हॉटस्पाट में तब्दील कर दिया गया था।

इसी दिन शहर के शिवकुटी एरिया के शंकरघाट एरिया में एक पॉजिटिव केस सामने आया था।

इसके चलते यह एरिया भी हॉटस्पाट बना दिया गया था।

21 मई को दोनों एरिया ने टोटल 28 दिन की टाइम लाइन पूरी कर ली है। ऐसे में अब इन्हे हॉटस्पाट की सूची से बाहर किया जा सकता है।

लोगों को मिलेगा आराम

यह दोनों एरिया हॉटस्पाट सूची से बाहर होने के बाद लोगों को खासा आराम मिलेगा। स्थानीय जनता को घर से निकलने पर रोक-टोक नहीं रहेगी। बैरीकेडिंग के साथ पुलिस का पहरा भी कम हो जाएगा। वर्तमान में जिले में कुल 22 हॉटस्पाट बनाए गए हैं। इनमें से दो हटाए जाने के बाद संख्या कम होकर 20 रह जायेगी। बता दें कि यह दोनों जिले के दूसरे और तीसरे हाट स्पाट हैं। जबकि पहला हॉट स्पाट शाहगंज एरिया था जो अब सूची से बाहर हो चुका है।

शंकरगढ़ का कपारी गांव और शिवकुटी का शंकरघाट एरिया की टाइम लाइन पूरी हो चुकी है। इन दोनों एरिया को हॉटस्पाट सूची से हटाने की प्रक्रिया की जा रही है।

डा। ऋषि सहाय, नोडल कोविड 19

Posted By: Inextlive

inext-banner
inext-banner