सेरेना विलियम्स सितंबर के बाद आज जब पहली बार किसी टूर्नामेंट में खेलने के लिए उतरी तो उनका टखना चोटिल हो गया जिससे आस्ट्रेलियाई ओपन के लिए उनकी तैयारियों को करारा झटका लगा है.

आस्ट्रेलियाई ओपन 2010 में खिताब जीतने के बाद पहली बार आस्ट्रेलिया पहुंची सेरेना तब सर्बिया की बोजना जोवानोवस्की के खिलाफ 6-2, 5-3 के स्कोर पर मैच के लिए सर्विस कर रही थी जब उनका टखना मुड़ गया और वह धड़ाम से कोर्ट पर गिर गई.

तेरह बार की ग्रैंडस्लैम विजेता को इसके बाद कई मिनट तक उपचार करवाना पड़ा और जब खेलने के लिए उतरी तो उन्होंने अपनी सर्विस गंवा दी. वह हालांकि अगले गेम में अंक जुटाने में सफल रही और 6-2, 6-4 से जीत दर्ज करके ब्रिस्बेन इंटरनेशनल टेनिस टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल में पहुंचने में सफल रही.

सेरेना ने इसके बाद कोर्ट पर इंटरव्यू नहीं दिया और टूर्नामेंट के अधिकारियों ने बताया कि चिकित्सक उनकी चोट की जांच कर रहे हैं. वह पिछले दो सत्र से भी चोटों से जूझती रही है और उन्हें लंबा समय बाहर बैठकर बिताना पड़ा.

पिछले साल सितंबर में अमेरिकी ओपन के फाइनल में सेरेना को हराने वाली आस्ट्रेलियाई समंता स्टोसुर को यहां चेक गणराज्य की इवेटा बेनेसोवा ने 6-4, 6-2 से उलटफेर का शिकार बनाया. एक अन्य मैच में एस्तोनिया की काइया कानेपी ने रूस की सातवीं वरीयता प्राप्त अनस्तेसिया पावलिचेनकोवा को 6-0, 6-3 से हराया.

पुरुषों के वर्ग में फ्रांस के जाइल्स सिमोन ने आस्ट्रेलियाई किशोर जेम्स डकवर्थ को 6-3, 7-5 से जबकि चेक गणराज्य के छठी वरीयता प्राप्त रादेक स्टेपनेक ने फिनलैंड के जार्को नेमीनेन को 7-6, 6-2 से पराजित किया.

inextlive from News Desk