-शहर के रेलवे जंक्शन पर टॉयलेट यूज करने के लिए दूसरे जंक्शन जाना पड़ता है

-जंक्शन पर एनईआर ने प्लेटफार्म 5 और 6 नम्बर बना दिया, लेकिन पैसेंजर्स के लिए नहीं बनाए टॉयलेट

BAREILLY :

पूरे देश में घर-घर टॉयलेट बनवा कर देश को खुले में शौच से मुक्त कराने के प्रयास हो रहे हैं. वहीं दूसरी तरफ बरेली जंक्शन के पर पैसेंजर्स खुले में शौच करने को मजबूर हैं. दरअसल यहां एनआर मुरादाबाद मंडल के साथ ही एनईआर इज्जतनगर मंडल का भी जंक्शन है. हाल ही में बनाए गए एनईआर जंक्शन के प्लेटफार्म नंबर 5 और 6 पर एक भी टॉयलेट नहीं बनाया गया. ऐसे में पैसेंजर्स को टॉयलेट का यूज करने के लिए एनआर के प्लेटफार्म तक दौड़ लगानी पड़ती है. कई बार तो वहां जाने से बचने के लिए वह खुले में ही टॉयलेट करते हैं.

वेटिंग हॉल में बना है टॉयलेट

इज्जतनगर मंडल एनईआर के अफसरों से जब प्लेटफार्म संख्या पांच और छह पर टॉयलेट नहीं होने के बारे में बात की तो उन्होंने चौकाने वाला जवाब दिया. बताया कि टॉयलेट तो वेटिंग हॉल में बना है, अब किसी पैसेंजर्स को टॉयलेट जाना हो तो वह प्लेटफार्म संख्या 5 पर चला जाए और एसएस से कहकर वेटिंग हॉल में बने टॉयलेट को खुलवा सकता है. प्लेटफार्म नम्बर छह पर किसी महिला को टॉयलेट जाने के लिए प्लेटफार्म पांच पर एसएस को बताने पर ही आप टॉयलेट यूज कर सकेंगे.

खुले में टॉयलेट जाने को मजबूर

रेलवे जंक्शन पर बरेली एनईआर मंडल ने करीब एक वर्ष पहले बड़ी लाइन के बाद नया प्लेटफार्म संख्या पांच और छह बनाया था, लेकिन दोनों ही प्लेटफार्म पर टॉयलेट नहीं बनाए. ऐसे में मजबूरी में पैसेंजर्स को मुरादाबाद मंडल के प्लेटफार्म संख्या 1 पर जाना पड़ता है. वहीं कई बार पैसेंजर्स प्लेटफार्म संख्या छह के बाहर ही टॉयलेट करते हैं जिसकी बदबू से यात्री परेशान होते हैं.

बोले जिम्मेदार

बरेली एनईआर रेलवे जंक्शन प्लेटफार्म पर कोई टॉयलेट नहीं बना है, लेकिन वेटिंग हॉल में बना है. अभी उसमें ताला पड़ा है. जरूरत पड़ने पर पैसेंजर वह एसएस से ताला खुलवा सकता है.

-राजेन्द्र सिंह, पीआरओ, एनईआर मंडल इज्जतनगर