आगरा. अवैध अस्पतालों में इलाज के दौरान जान लेने का सिलसिला नहीं खत्म हो रहा है. बुधवार को अनट्रेंड स्टाफ द्वारा इंजेक्शन लगाए जाने के दौरान महिला की मौत हो गई. गुस्साए परिजनों ने महिला का शव हॉस्पिटल पर रखकर हंगामा किया. परिजनों का कहना है कि इलाज में बरती गई लापरवाही के दौरान महिला की मौत हुई है.

दो दिन पहले कराया था भर्ती

थाना एत्मादउद्दौला क्षेत्र के कालिंदी विहार निवासी शालू को डिलीवरी के लिए 14 जुलाई को सरोज हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था. उसी दिन दोपहर में सिजेरियन ऑपरेशन से शालू को लड़का हुआ. दोनों ही डिलीवरी के बाद स्वस्थ थे. पति बॉबी ने बताया कि बुधवार सुबह करीब पांच बजे अस्पताल के स्टाफ द्वारा शालू को इंजेक्शन लगाया गया. इसके बाद शालू की हालत बिगड़ने लगी. डॉक्टर बिगड़ती स्थिति को देखकर घबरा गए. दूसरे अस्पताल ले जाने के लिए जोर डालने लगे. हॉस्पिटल से निकलते ही शालू की मौत हो गई. आक्रोशित परिजनों ने जमकर हंगामा कर दिया. मृत महिला का शव हॉस्पिटल के गेट पर रखकर अस्पताल पर कार्यवाही करने की मांग की. मौके पर पहुंची प्रशासनिक टीम ने अस्पताल के गेट पर ताला जड़ दिया. पुलिस ने परिवारीजनों से हॉस्पिटल के खिलाफ तहरीर लेकर कार्रवाई का आश्वासन दिया. नगर मजिस्ट्रेट ने मौके पर पहुंच कर अस्पताल पर जांच के आदेश दिए है.