कानपुर। ICC Women's T20 World Cup क्रिकेट चाहे पुरुष खेले या महिला अगर रिकॉर्ड बनता है तो इसकी गिनती जरूर होती है। क्रिकेट इतिहास में ऐसे कई कारनामे हैं जिसमें महिला क्रिकेटरों की बादशाहत चलती है। अब चाहें पहला वनडे दोहरा शतक हो या सबसे बड़ा स्कोर, क्रिकेट के इन पांच रिकॉर्ड बुक में आज भी पुरुषों से पहले महिला क्रिकेटरों के नाम आते हैं। आप भी देखिए ये लिस्ट।

वनडे में पहला दोहरा शतक

वनडे क्रिकेट में पहली डबल सेंचुरी की बात होती है, तो सबसे पहला नाम सचिन तेंदुलकर का आता है। क्रिकेट के भगवान सचिन ने साल 2010 में ग्वालियर में साउथ अफ्रीका के खिलाफ पहला वनडे दोहरा शतक जड़ा था, हालांकि उसके बाद से कई क्रिकेटर दोहरे शतक तक पहुंच चुके हैं। मगर आपको जानकर हैरानी होगी कि वनडे में पहली बार 200 का आंकड़ा एक महिला क्रिकेटर ने छुआ था। ये रिकॉर्ड बनाया था ऑस्ट्रेलियाई महिला बल्लेबाज बेलिंडा क्लॉर्क ने। बेलिंडा ने 1997 विश्व कप में डेनमार्क के खिलाफ 155 गेंदों में 229 रन की नाबाद पारी खेलकर वनडे इतिहास में डबल सेंचुरी लगाने का गौरव हासिल किया था।

वनडे में 400 का स्कोर

साल 2006 में जोहांसबर्ग में साउथ अफ्रीका बनाम ऑस्ट्रेलिया के बीच खेला गया वनडे मुकाबला कौन भूल सकता है। इस मैच में कंगारुओं ने पहले खेलते हुए 4 विकेट के नुकसान पर 434 रन बनाए थे। उस वक्त पुरुष क्रिकेट इतिहास में पहली बार किसी टीम ने वनडे में 400 का आंकड़ा छुआ था, हालांकि उस मुकाबले में बाद में प्रोटीज ने चेज करते हुए कंगारुओं से ज्यादा रन बनाकर जीत हासिल कर ली थी। मगर क्या आपको पता है एकदिवसीय क्रिकेट में पहली बार 50 ओवर में 400 रन बनाने वाली ऑस्ट्रेलियाई महिला टीम थी। 1997 विश्व कप में डेनमार्क के खिलाफ कंगारु महिला टीम ने 3 विकेट पर 412 रन बनाए थे।

एक टेस्ट मैच में 10 विकेट और 100 रन

एक टेस्ट मैच में 10 विकेट और 100 रन बनाने का कारनामा सबसे पहले महिला क्रिकेटर ने किया था। क्रिकइन्फो पर उपलब्ध डेटा के मुताबिक, साल 1958 में ऑस्ट्रेलियाई महिला क्रिकेटर बेटी विल्सन ने इंग्लैंड के खिलाफ मेलबर्न टेस्ट में 112 रन और 11 विकेट लिए थे। पहली पारी में विल्सन बल्ले से कमाल नहीं कर पाई थी और 12 रन बनाकर पवेलियन लौटी मगर गेंदबाजी में उन्होंने 7 विकेट चटकाए। हालांकि सेकेंड इनिंग में विल्सन ने शानदार बैटिंग करते हुए जबरदस्त शतक जड़ा और फिर दूसरी पारी में 4 विकेट लिए। इसी के साथ वह एक टेस्ट में शतक और 10 विकेट लेने वाली पहली क्रिकेटर बन गई। हालांकि इसके दो साल बाद 1960 में ऑस्ट्रेलिया के एलेन डेविडसन यही कारनामा करने वाले पहले पुरुष क्रिकेटर बने।

टी-20 में लगातार सबसे ज्यादा जीत

टी-20 इंटरनेशनल क्रिकेट में लगातार सबसे ज्यादा जीत दर्ज करने का रिकॉर्ड इंग्लैंड की महिला टीम के नाम है। इस टीम ने 2011 से लेकर 2012 के बीच लगातार 14 टी-20 मुकाबले जीते थे। हालांकि पुरुष क्रिकेट में यह रिकॉर्ड अफगानिस्तान के नाम है। हालांकि अफगान टीम ने इंग्लैंड का रिकॉर्ड नहीं तोड़ा। अफगानियों ने लगातार 12 टी-20 मुकाबले जीते हैं।

सबसे ज्यादा वर्ल्डकप जीतने वाली टीम

पुरुष क्रिकेट टीम की बात की जाए तो सबसे ज्यादा वर्ल्डकप जीतने वाली टीम ऑस्ट्रेलिया का है। कंगारुओं ने चार विश्वकप अपने नाम किए हैं। इसमें 1987, 1999, 2003 और 2007 विश्वकप ट्रॉफी शामिल है। मगर आपको जानकर हैरानी होगी कि ऑस्ट्रेलिया की महिला क्रिकेट टीम ने सबसे ज्यादा 6 बार वर्ल्डकप जीता है। महिला कंगारु टीम ने 1978, 1982, 1988, 1997, 2005 और 2013 में जीत के झंडे गाड़े थे।

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

Cricket News inextlive from Cricket News Desk