उलान उदे (रूस) (आईएएनएस)। छह बार की वर्ल्ड चैंपियन एमसी मैरीकाॅम वुमेंस बाॅक्सिंग चैंपियनशिप के सेमीफाइनल में पहुंच गई हैं। गुरुवार को हुए क्वाॅर्टर फाइनल के मुकाबले में मैरीकाॅम ने कोलंबिया की एंग्रिट वेलेंसिया को 5-0 के अंतर से हराकर सेमीफाइनल का टिकट कटवाया। अंतिम चार में पहुंचने के बाद मैरीकाॅम का अब सेमीफाइनल में मुकाबला होगा जहां जीतने या हारने पर उनको एक न एक मेडल जरूर मिलेगा।

आठ मेडल जीतने वाली पहली बाॅक्सर बनेंगी
इस जीत के साथ, मैरी कॉम ने टूर्नामेंट के इतिहास में सबसे सफल मुक्केबाज के रूप में अपना खुद का रिकॉर्ड सुधार लिया। टूर्नामेंट की शुरुआत से पहले उनके पास 48 किग्रा वर्ग में छह गोल्ड और एक सिल्वर सहित सात मेडल थे। यह पहला मौका है जब मणिपुरी मुक्केबाज ने 51 किग्रा वर्ग में विश्व पदक हासिल किया है। मैच खत्म के बाद 36 वर्षीय मैरीकाॅम ने कहा, "मैं एक पदक हासिल करके बहुत खुश हूं लेकिन मैं फाइनल में पहुंचकर इसे बेहतर बनाना चाहूंगी। यह मेरे लिए एक अच्छा मुकाबला था और मैं अब सेमीफाइनल में इस प्रदर्शन में सुधार करने की कोशिश करूंगी।' अपने 8 वें पदक की रक्षा करते हुए, मैरी कॉम ने क्यूबा के फेलिक्स सैवन को भी पीछे छोड़ दिया जिनके पास टूर्नामेंट में सात पदक और आयरलैंड के केटी टेलर, जिनके करियर में 6 विश्व पदक थे। इस लिस्ट में सबसे पहला नाम अब मैरीकाॅम का आ जाएगा जिनके नाम अब आठ मेडल हो जाएंगे।


शनिवार को होगा सेमीफाइनल मुकाबला
मैरीकॉम शनिवार को सेमीफाइनल में दूसरी वरीयता प्राप्त तुर्क बुसेनाज काकीरोग्लू से भिड़ेगी। काकीरोग्लू, जो वर्तमान में यूरोपीय चैंपियनशिप और यूरोपीय खेलों के स्वर्ण पदक विजेता हैं, ने अपने क्वार्टर फाइनल मुकाबले में चीन की कै जोंगजू को हराकर खुद को भारतीय मुक्केबाज के खिलाफ संघर्ष के लिए खड़ा कर दिया।

 

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

Cricket News inextlive from Cricket News Desk

inext-banner
inext-banner