features@inext.co.in 
KANPUR: हाल ही एक मीडिया इंटरेक्शन में कृति ने बताया कि उनके फिल्मी करियर की शुरूआत उनके बॉयफ्रेंड के साथ ब्रेकअप के बाद हुई थी। कृति खरबंदा कहती हैं, जब मुझे मेरी पहली फिल्म का ऑफर आया था, उसके कुछ समय पहले मेरा ब्रेकअप हुआ था और मैं उससे उबरने के लिए कुछ करना चाहती थी। उसी दौरान मुझे मेरी पहली फिल्म का कॉल आया। 
पहली फिल्म के ऑफर पर मां- दादी दोनों हुई थी खुश 
मैने मेरी मां और दादी मां से पूछा कि मुझे क्या करना चाहिए। इस पर मेरी मां से ज्यादा मेरी दादी उत्साहित थी। उन्होंने न सिर्फ मुझे फिल्मों में काम करने के लिए प्रेरित किया, बल्कि वह खुद भी फिल्मों में काम करना चाहती थी। दादी ने मुझे कहा भी कि अगर मेरे लिए कोई रोल हो तो बताना। 
शादी कर घर बसाना चाहती थी 
कृति खरबंदा कहती हैं कि वह फिल्मों में आने से पहले शादी कर घर बसाना चाहती थी और उन्होंने इसके लिए उनकी मां से लड़का ढूंढने के लिए कह भी दिया था। अगर वह फिल्मों में नहीं आती तो शादी कर अपना घर बसा चुकी होतीं। लेकिन फिर उन्हें फिल्मों के ऑफर आने लगे और आज वह फिल्मों में इतनी बिजी हैं कि अगले तीन महीने वह मां से मिलने उनके घर भी नहीं जा सकती। कृति ने कहा कि वह अब सिंगल हैं। 
बॉबी देओल हैं सबसे अच्छे को-स्टार  
कृति कहती हैं कि मैं बचपन से ही बॉबी देओल की बहुत बड़ी फैन रही हैं। बॉबी सर की फिल्मों को देखकर ही बड़ी हुई हूं। सेट पर जब पहली बार उनसे मुलाकात हुई तो मेरे लिए वह बहुत ही खास पल था। मुझे तुरंत 1998 में आई उनकी फिल्म सोल्जर याद आ गई। मैं उनसे हाथ मिलाकर नाचने लगी थी। वो मेरे सबसे मजेदार को-स्टार्स हैं। सनी देओल के साथ शुरू में मैं कुछ कंफर्टेबल नहीं थी, क्योंकि मेरे दिमाग में उनको लेकर एक एंग्री मैन था। हालांकि शूटिंग के एक दो दिन बाद से मैं सनी सर के साथ भी कंफर्टेबल हो गई थी। हां, थोड़ा डर अभी भी लगता है। कृति कहती हैं कि मुझे धर्मेंद्र सर से डर नहीं लगा। मैंने कभी नहीं सोचा था कि मुझे कभी इन सभी के साथ एक साथ काम करने का मौका मिलेगा। 
जब झूला झूलने के लिए चुराए थे पैसे
कृति ने बताया था कि वो बचपन में मम्मी के पर्स से बीस रुपए चुरा लेती थीं क्योंकि उन्हें झूला झूलना बहुत पसंद था। एक बार मौसी ने उन्हें अकेले झूला झूलते देख लिया था और उनसे पूछा कि पैसे कहां से मिलें तो उन्होंने बोल दिया कि मां ने दिए हैं और जब मां ने पूछा तो मौसी का नाम बता दिया। लेकिन जब सच्चाई पता चली तो जमकर पिटाई हो गई।  कृति आज भी उन दिनों को याद कर मुस्कुरा देती हैं। 

features@inext.co.in 

KANPUR: हाल ही एक मीडिया इंटरेक्शन में कृति ने बताया कि उनके फिल्मी करियर की शुरूआत उनके बॉयफ्रेंड के साथ ब्रेकअप के बाद हुई थी। कृति खरबंदा कहती हैं, जब मुझे मेरी पहली फिल्म का ऑफर आया था, उसके कुछ समय पहले मेरा ब्रेकअप हुआ था और मैं उससे उबरने के लिए कुछ करना चाहती थी। उसी दौरान मुझे मेरी पहली फिल्म का कॉल आया। 

See Also

पहली फिल्म के ऑफर पर मां- दादी दोनों हुई थी खुश 

मैने मेरी मां और दादी मां से पूछा कि मुझे क्या करना चाहिए। इस पर मेरी मां से ज्यादा मेरी दादी उत्साहित थी। उन्होंने न सिर्फ मुझे फिल्मों में काम करने के लिए प्रेरित किया, बल्कि वह खुद भी फिल्मों में काम करना चाहती थी। दादी ने मुझे कहा भी कि अगर मेरे लिए कोई रोल हो तो बताना। 

शादी कर घर बसाना चाहती थी 


कृति खरबंदा कहती हैं कि वह फिल्मों में आने से पहले शादी कर घर बसाना चाहती थी और उन्होंने इसके लिए उनकी मां से लड़का ढूंढने के लिए कह भी दिया था। अगर वह फिल्मों में नहीं आती तो शादी कर अपना घर बसा चुकी होतीं। लेकिन फिर उन्हें फिल्मों के ऑफर आने लगे और आज वह फिल्मों में इतनी बिजी हैं कि अगले तीन महीने वह मां से मिलने उनके घर भी नहीं जा सकती। कृति ने कहा कि वह अब सिंगल हैं। 

बॉबी देओल हैं सबसे अच्छे को-स्टार  

कृति कहती हैं कि मैं बचपन से ही बॉबी देओल की बहुत बड़ी फैन रही हैं। बॉबी सर की फिल्मों को देखकर ही बड़ी हुई हूं। सेट पर जब पहली बार उनसे मुलाकात हुई तो मेरे लिए वह बहुत ही खास पल था। मुझे तुरंत 1998 में आई उनकी फिल्म सोल्जर याद आ गई। मैं उनसे हाथ मिलाकर नाचने लगी थी। वो मेरे सबसे मजेदार को-स्टार्स हैं। सनी देओल के साथ शुरू में मैं कुछ कंफर्टेबल नहीं थी, क्योंकि मेरे दिमाग में उनको लेकर एक एंग्री मैन था। हालांकि शूटिंग के एक दो दिन बाद से मैं सनी सर के साथ भी कंफर्टेबल हो गई थी। हां, थोड़ा डर अभी भी लगता है। कृति कहती हैं कि मुझे धर्मेंद्र सर से डर नहीं लगा। मैंने कभी नहीं सोचा था कि मुझे कभी इन सभी के साथ एक साथ काम करने का मौका मिलेगा। 

जब झूला झूलने के लिए चुराए थे पैसे

कृति ने बताया था कि वो बचपन में मम्मी के पर्स से बीस रुपए चुरा लेती थीं क्योंकि उन्हें झूला झूलना बहुत पसंद था। एक बार मौसी ने उन्हें अकेले झूला झूलते देख लिया था और उनसे पूछा कि पैसे कहां से मिलें तो उन्होंने बोल दिया कि मां ने दिए हैं और जब मां ने पूछा तो मौसी का नाम बता दिया। लेकिन जब सच्चाई पता चली तो जमकर पिटाई हो गई।  कृति आज भी उन दिनों को याद कर मुस्कुरा देती हैं। 

ये भी पढ़ें: मेरी सच्चाई ने लोगों को झुकने पर किया मजबूर: धर्मेंद्र


Bollywood News inextlive from Bollywood News Desk