patna@inext.co.in

PATNA : पटना पुलिस क्राइम कंट्रोल का दावा कर रही है. सीनियर पुलिस अफसर लगातार कार्रवाई की बात भी कह रहे हैं पर हकीकत ठीक उलट है. हर दिन कोई न कोई घटना कर अपराधी कानून को ठेंगा दिखाते रहते हैं. ऐसा ही कुछ रविवार को हुआ जब जिला परिषद सदस्य के बेटों ने एक युवक को पहले तो हथियार लेकर दिनदहाड़े करीब आधा किलोमीटर तक बीच सड़क पर खदेड़ा फिर जब युवक कीचड़ में फंस गया तो उसे गोलियों से भून डाला. चौंकाने वाली बात यह रही कि पूरी घटना राजीव नगर थाना से महज 200 मीटर की दूरी पर हुई और पुलिस को इसकी सूचना 10 मिनट बाद मिली. घटना के बाद पुलिस तमाशबीन बनी रही और आक्रोशित भीड़ ने जिला परिषद सदस्य के खटाल में आग लगा दी. आग लगने के बाद अफरातफरी का माहौल हो गया. मामले में पुलिस ने जिला परिषद सदस्य के बेटों सहित 10 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है. अभी तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई है. मामले में पुलिस आरोपियों की तलाश में छापेमारी कर रही है.

स्कार्पियो से आए थे बदमाश

मृतक विशाल के चाचा विनोद ने बताया कि रविवार सुबह करीब 9 बजे विशाल अपने दोस्त से मिलकर दीघा-आशियाना की ओर जा रहा था. इस दौरान जिला परिषद सदस्य माला राय का साला सूरज सरकार, उनका बेटा गुरुदयाल, श्रीदयाल सहित 12 लोग स्कार्पियों से आए और भतीजा विशाल को दौड़ाने लगे. इस दौरान वो भागने लगा. भागते-भागते वो नेपाली नगर में पहुंच गया. इस दौरान ये लोग स्कार्पियों से उसका पीछा कर रहे थे. विशाल अचानक नेपाली नगर में कीचड़ में फंस गया. वहीं, उसे गोलियों से भून डाला. इसके बाद सभी लोग भाग गए.

हत्या से हड़कंप

हैरानी की बात ये है कि ये पूरा घटनाक्रम राजीव नगर थाने से महज 200 मीटर की दूरी पर हुई. पार्षद सदस्य के बेटे की हौसला इतना बुलंद हो गया है कि ये लोग युवक को थाने के पास में खदेड़ते हैं और उसे गोली मार देते हैं. घटना के करीब 10 मिनट बाद पुलिस पहुंची. जब तक पुलिस मौके पर पहुंची वहां से अपराधी भागने में कामयाब हो गए.

पुलिस देखती रही और लगा दी आग

घटनास्थल पर पुलिस पहुंच गई थी. लोग इतने ज्यादा आक्रोशित थे कि पुलिस कुछ नहीं बोल रही थी. पुलिस के सामने ही भीड़ ने जिला परिषद सदस्य के खटाल में आग लगा दी. देखते-देखते आग ने विकराल रूप ले लिया. बाद में फायर ब्रिगेड को फोनकर इसकी सूचना दी गई.