कराची (पीटीआई)। पाकिस्तान के क्वेटा शहर में शुक्रवार की सुबह एक सब्जी बाजार के पास जोरदार बम विस्फोट हुआ, जिसमें अल्पसंख्यक हजारा समुदाय के सदस्यों सहित कम से कम 16 लोगों की मौत हो गई और 30 अन्य लोग घायल हो गए। पुलिस ने बताया कि विस्फोट सुबह 7:35 बजे हुआ, यह एक विस्फोटक उपकरण (आईईडी) के कारण हुआ, जिसे बाजार में सब्जियों के बीच छिपाकर रखा गया था। बलूचिस्तान की प्रांतीय राजधानी क्वेटा के हजारीगंज इलाके में हुए बम विस्फोट में कम से कम आठ लोग हजारा समुदाय के थे। सुरक्षा बलों का कहना है कि मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है। डीआईजी क्वेटा अब्दुल रजाक चीमा ने मीडिया को बताया कि फ्रंटियर कॉर्प (एफसी) के अधिकारी सहित 16 लोगों ने विस्फोट में अपनी जान गंवा दी, इस हमले के जरिये हजारा समुदाय को निशाना बनाया गया था।

घायलों का चल रहा इलाज

अधिकारियों का कहना है कि 30 अन्य घायल हो गए हैं, जिनका अस्पताल में इलाज चल रहा था। घायलों में चार जवान भी शामिल हैं। पुलिस ने कहा कि विस्फोट के बाद आसपास की इमारतें भी क्षतिग्रस्त हो गईं हैं। सुरक्षा बालों को घटनास्थल पर तैनात कर दिया गया है। फिलहाल किसी भी समूह ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। प्रधान मंत्री इमरान खान ने इस विस्फोट की निंदा की है और घटना पर रिपोर्ट मांगी है। हजारा पाकिस्तान में एक महत्वपूर्ण अल्पसंख्यक समूह हैं और उनमें से ज्यादातर क्वेटा में रहते हैं।  
बलूचिस्तान, पाकिस्तान का सबसे बड़ा और सबसे गरीब प्रांत है, यहां दिन हमले किये जाते हैं।

पाकिस्तान में पूर्व पीएम नवाज शरीफ के परिवार के खिलाफ दर्ज होगा भ्रष्टाचार का नया मामला

मोदी की जीत वाले इमरान के बयान पर कांग्रेस ने बीजेपी को घेरा

Posted By: Mukul Kumar

International News inextlive from World News Desk

inext-banner
inext-banner