खार्तूम (पीटीआई)। Sudan Factory Fire सूडान के खार्तूम में स्थित एक चीनी मिट्टी के कारखाने में मंगलवार को एलपीजी टैंकर भयानक तरीके से ब्लास्ट हो गया। भारतीय दूतवास ने बुधवार को बताया कि इस हादसे में 23 लोगों की मौत हो गई है, जिनमें से 18 भारतीय हैं। वहीं, इस भयानक हादसे में करीब 130 से अधिक लोग घायल हो गए हैं। बता दें कि मंगलवार को खार्तूम इलाके में सीला सिरेमिक फैक्टरी में हुई इस घटना के बाद 16 भारतीय लापता हो गए थे। भारतीय दूतावास ने अपने विज्ञप्ति में बताया है कि हालिया रिपोर्टों के अनुसार करीब 18 भारतीयों की मौत हो गई है लेकिन फिलहाल आधिकारिक तौर पर इसकी पुष्टि नहीं की जा सकती है।

पूरी तरह से जल गए हैं शव, पहचान पाना मुश्किल
भारतीय दूतावास ने कहा, 'कुछ लापता लोग मृतकों की सूची में हो सकते हैं, उन्हें पहचान पाना संभव नहीं है क्योंकि शव पूरी तरह जल गए हैं।'। दूतावास ने बुधवार को उन भारतीयों की एक विस्तृत सूची जारी की, जो अस्पताल में भर्ती हैं, लापता हो गए हैं या इस हादसे में बच गए हैं। इसके आंकड़ों के अनुसार, 7 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जिनमें से चार की हालत गंभीर है। बचे हुए 34 भारतीयों को सालूमि सेरामिक्स फैक्टरी के आवास पर ठहराया गया है। सूडानी सरकार ने कहा कि इस घटना में 23 लोग मारे गए हैं और 130 से अधिक घायल हो गए हैं। शुरुआती रिपोर्टों में बताया गया कि आवश्यक सुरक्षा उपकरण साइट पर गायब थे। सरकार ने बताया कि फैक्ट्री में ज्वलनशील पदार्थ अनुचित तरीके से जमा थे, जिसके कारण आग फैल गई, इसको लेकर जांच किया जा रहा है।

Posted By: Mukul Kumar

International News inextlive from World News Desk