मिनिमम 15 माक्र्स जरूरी
सीबीएसई के क्लास 9 और 10 के लिए 4 फॉर्मेटिव असेस्मेंट और 2 समेटिव असेस्मेंट कंडक्ट कराया जाता है. अमेंडमेंड लागू होने से पहले स्टूडेंट्स को दोनों असेस्मेंट को मिलाकर स्कोर दिया जाता है. लेकिन अब हर समेटिव असेस्मेंट में स्टूडेंट्स को 60 में से कम से कम 15 माक्र्स स्कोर करना जरूरी है. क्योंकि बोर्ड ने यह बदलाव इसी एकेडमिक सेशन किया है इसलिए इस बार क्लास 9 में यह लागू हो गया है. नेक्स्ट एकेडमिक सेशन से क्लास 10 में भी लागू हो जाएगा. यही नहीं स्टूडेंट्स को दोनों समेटिव असेस्मेंट में अपनी अटेंडेंस भी मेंटेन करनी होगी. यदि किसी कारणवश स्टूडेंट्स असेस्मेंट में अपीयर नहीं हो पाते हैं तो उन्हें क्राइटीरिया को पूरा करने के लिए असेस्मेंट में दोबारा अपीयर होना पड़ेगा.

मार्च में होंगे समेटिव असेस्मेंट
बोर्ड के अनुसार इस एकेडमिक सेशन में क्लास 9 और 10 के बच्चों के लिए समेटिव असेस्मेंट टू मार्च के सेकेंड वीक से कंडक्ट किया जाएगा. यह असेस्मेंट पेन-पेपर टेस्ट के रूप में होगा. जिसे स्कूल अपने स्तर पर ही कंडक्ट करेंगे. टेस्ट का स्टैंडर्ड मेंटेन करने के लिए बोर्ड सभी स्कूल को ऑनलाइन क्वेश्चन पेपर भी मुहैया कराएगा. बोर्ड के अनुसार 3 मार्च से ऑनलाइन क्वेश्चन पेपर्स मुहैया कराया जाएगा. एग्जाम 10 मार्च से कंडक्ट कराया जाएगा. ऑनलाइन मार्किंग स्कीम 17 मार्च से मुहैया कराया जाएगा.