मेरठ (ब्यूरो)। सीबीएसई अब अपने स्टूडेंट्स को साइंटिस्ट बनाने में मदद करेगा। इसके लिए बोर्ड ने साइंटिफिक एप्रोच वाले स्टूडेंट्स को अपना हुनर दिखाने का मौका दिया है। ऐसे बच्चों को मंच देने के लिए बोर्ड बकायदा नेशनल लेवल पर साइंस एग्जिीबिशन का आयोजन करने जा रहा है। बोर्ड के इस कदम को सिटी के स्कूल संचालक भी बेहतर कदम मान रहे है। स्कूल संचालकों के मुताबिक इस तरह के मंच से स्टूडेंट्स के अंदर मोटिवेशन आता है और उनके इनोवेशन को पहचान मिलती है।

आइडियाज को मिलेगी पहचान

बोर्ड की ओर से आयोजित इस एग्जीबिशन के जरिए स्टूडेंट्स अपने क्रिएटिव आइडिया को प्रोजेक्ट के रूप में धरातल पर साकार कर सकते है। 6 से 9वीं क्लास के स्टूडेंट्स इसमें भाग ले सकते है। इसमें इसमें रिसर्च बेस्ड साइंस प्रोजेक्ट और इनोवेटिव मॉडल्स को ही शामिल किया जाएगा। यही नहीं क्रिएटिव आइडिया वाले स्टूडेंट्स को बोर्ड आगे बढ़ने में भी मदद करेगा। 12 अक्टूबर से इसके लिए स्टूडेंट्स आवेदन कर सकते है।

'बच्चों के लिए इस तरह का मंच बहुत हेल्पफुल होता है। खासतौर से बच्चों के टैलेंंट को पहचान मिलती है और फ्यूचर को लेकर वह एक दिशा प्लान कर लेते हैं।'

- प्रेम मेहता, प्रिंसिपल, सिटी वोकेशनल पब्लिक स्कूल

'साइंटिफिक मॉडल्स के जरिए स्टूडेंट्स अपना टैलेंट को बाहर ला सकते है। बच्चों की क्रिएटिविटी और इनोवेशंस को बाहर लाने के लिए इस तरह के मंच बहुत जरूरी है।'

- राना लुबाना, प्रिंसिपल, इंटरनेशनल पब्लिक स्कूल, कैंट

'बच्चों की प्रतिभा को जब पंख मिलते है तो वह खुद को बेहतर तरीके से एक्सप्लोर कर सकते है। यही बच्चे आगे भविष्य में किसी मुकाम को पा सकते है।'

- डाॅ. याचना भारद्वाज, प्रिंसिपल, ऋषभ एकेडमी

meerut@inext.co.in

Posted By: Inextlive Desk

National News inextlive from India News Desk