- आंसू गैस के गोले छोड़ने के बजाय अब पुलिस मिर्ची ग्रेनेड का करेगी प्रयोग

- हिंसक भीड़ को काबू करने में मिर्ची ग्रेनेड बनेगा पुलिस का मुख्य हथियार, पुलिसकर्मियों को दी गई ट्रेनिंग

KOTDWAR: पुलिस अब उग्र भीड़ को तितर-बितर करने के लिए मिर्ची के ग्रेनेड दागेगी. यह मिर्ची उन उत्पातियों के लिए है, जो भीड़ का सहारा लेकर अराजकता फैलाने का प्रयास करते हैं. अब आंसू गैस के गोले छोड़ने के बजाए मिर्ची ग्रेनेड पुलिस का सबसे कारगर हथियार होगा.

दो दिन तक रहता है असर

पुलिस जल्द ही आमजन की आंखों में मिर्ची झोंकने की तैयारी में है. घबराइये नहीं, यह मिर्ची उन उत्पादियों के लिए है जो भीड़ में उपद्रव करते हैं. भीड़ कब ¨हसक हो जाए, इस बारे में कुछ कहा नहीं जा सकता. ¨हसक भीड़ की ओर से लोगों को मारे जाने की घटनाएं भी पिछले कुछ समय में तेजी से बढ़ी हैं. पुलिस इन घटनाओं पर काबू पाने के लिए गंभीर प्रयास में जुटी है. इसी प्रयास का रिजल्ट मिर्ची ग्रेनेड व मिर्ची स्प्रे के रूप में सामने आया है. तीखी लाल मिर्ची के पाउडर से भरा यह ग्रेनेड भीड़ के बीच गिरते ही तेजी से घूमना शुरू करता है और ग्रेनेड में भरी तीखी लाल मिर्च पाउडर हवा के संपर्क में आकर भीड़ में मौजूद लोगों को परेशानी देना शुरू कर देता है. पुलिस सूत्रों की मानें तो इस मिर्ची ग्रेनेड का असर दो दिन तक रहता है. मिर्ची ग्रेनेड के साथ ही पुलिस ने मिर्ची स्प्रे को भी बतौर हथियार के रूप में अपने पास रखने की तैयार की है. उद्देश्य यही है कि ¨हसक भीड़ को बगैर किसी गंभीर चोट के तितर-बितर किया जा सके.

पुलिसकर्मियों को दिया प्रशिक्षण

पुलिस मुख्यालय की एक टीम ने पुलिस को मिर्ची ग्रेनेड व मिर्ची स्प्रे के प्रयोग को लेकर प्रशिक्षण दिया. टीम ने पुलिस कर्मियों को बताया कि किस तरह मिर्ची ग्रेनेड से एक निश्चित दिशा में दागकर अधिक से अधिक लोगों को मौके से तितर-बितर किया जा सकता है. टीम ने इस कार्य के लिए प्रयुक्त होने वाली बंदूक के संबंध में भी जानकारी दी. इस मौके पर उपजिलाधिकारी योगेश मेहरा, अपर पुलिस अधीक्षक प्रदीप कुमार राय, पुलिस उपाधीक्षक अनिल कुमार जोशी, कोतवाल मनोज रतूड़ी, एसएसआइ प्रदीप नेगी सहित तमाम कर्मी मौजूद रहे.

¨हसक होती भीड़ को काबू करने के लिए मिर्ची ग्रेनेड बड़ा हथियार साबित हो सकता है. पुलिस कर्मियों को इसे इस्तेमाल करने का प्रशिक्षण दिया गया है. मिर्ची ग्रेनेड की जो भी खूबियां हैं, उससे पुलिस की ताकत को मजबूती मिलना तय है.

- प्रदीप कुमार राय, एएसपी, कोटद्वार

Posted By: Inextlive