-कुंभ मीडिया सेंटर में सीएम ने मेले के सफल आयोजन के लिए मीडिया का जताया आभार

-गिनाई मेले की उपलब्धियां, पीएम की तारीफों के बांधे पुल

PRAYAGRAJ: मीडिया का सकारात्मक सहयोग नहीं होता तो कुंभ का आयोजन आसमान की ऊंचाइयों तक नहीं पहुंच पाता. आपने इसे अपना आयोजन बनाया. इसके लिए मैं तमाम पत्रकार साथियों का हृदय से आभार व्यक्त करता हूं. यह बात सीएम योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को कुंभ मेला स्थित मीडिया सेंटर में पत्रकारों से बातचीत में कही. कुंभ के सफल आयोजन पर वह गद्गद नजर आए. उन्होंने मीडिया के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयासों और तारीफों के जमकर पुल बांधे.

दोगुने श्रद्धालुओं ने किया स्नान

सीएम ने कहा कि कुंभ की भव्यता और दिव्यता का बखान पूरी दुनिया में हुआ. इसके चलते पूरे कुंभ में 24 करोड़ ने संगम में स्नान किया. इसके पहले 2013 में महज 12 करोड़ श्रद्धालु ही त्रिवेणी के तट पर पहुंचे थे. मॉरीशस के पीएम ने इस बार संगम में आचमन किया. पिछले महाकुंभ में उन्होंने संगम में दूषित जल को देखकर अपने विचार बदल दिए थे. सीएम ने कहा कि देश के प्रत्येक प्रदेश के संवैधानिक पदों पर बैठे लोग कुंभ में आए. 1500 से अधिक हाईकोर्ट के जजेस ने संगम में स्नान किया. इसी तरह 70 देशों के राजदूत, 187 देशों के 189 विदेशी नागरिक व तीन हजार अप्रवासी भारतीयों ने प्रयागराज कुंभ में दस्तक दी.

पूरी हुई पीएम की इच्छा

उन्होंने कहा कि पर्यटन में हमारा प्रदेश नंबर वन बन रहा है. यह पत्रकारिता की देन है. पीएम स्वयं चाहते थे कि कुंभ यूनीक हो और उसे प्रदेश की शासकीय व प्रशासकीय टीम ने कर दिखाया. मैंने देखा कि खुद पीएम जब विदेश जाते हैं तो वहां के भारतवंशियों और अप्रवासियों से खुलकर संवाद करते हैं. वाराणसी के अप्रवासी सम्मेलन में भी मैंने यही देखा. इसका असर कुंभ में देखने को मिला.

11 माह करेंगे अक्षयवट का दर्शन

कुंभ की समाप्ति के बाद भी अक्षयवट और सरस्वती कूप के दर्शन 11 माह तक श्रद्धालुओं को मिलते रहेंगे. सीएम ने कहा कि इसके लिए सैद्धांतिक सहमति मिल गई है. दर्शन आदि की व्यवस्था और मेंटनेंस प्रयागराज मेला प्राधिकरण, उप्र सरकार के सहयोग से करेगा. यह देश-विदेश से आने वाले श्रद्धालुओं के लिए बड़ी उपलब्धि साबित होगी. प्रेस कांफ्रेंस में राज्यपाल रामनाइक, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना, स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह, कैबिनेट मंत्री रीता बहुगुणा जोशी, अपर मुख्य सचिव सूचना अवनीश अवस्थी, मेयर अभिलाषा गुप्ता, सूचना निदेशक शिशिर आदि उपस्थित रहे.