- जिमखाना मैदान में सात जनवरी को होगी कांग्रेस की रैली

- रैली में राजबब्बर, गुलाब नबी आजाद सहित बड़े नेता रहेंगे मौजूद

Meerut. नोटबंदी भारत का सबसे बड़ा घोटाला है. नोटबंदी गरीब, किसान, मजदूर, दुकानदार, मध्यम वर्ग तथा छोटे कारोबारियों के लिए सर्जिकल स्ट्राइक है. पीएम मोदी ने एक प्रतिशत कालाधन धारकों को पकड़ने के लिए 99 फीसदी ईमानदार लोगों पर मुसीबतों का पहाड़ तोड़ दिया. यह बात पूर्व मंत्री और कांग्रेस के नेता सतीश शर्मा ने प्रेस वार्ता के दौरान कहीं.

करोड़ों रुपयों का हिसाब दें पीएम

कांग्रेस नेता व पूर्व मंत्री सतीश शर्मा ने कहा कि नोटबंदी से पहले भाजपा और आरएसएस के खातों में करोड़ों रुपया जमा हुआ. पीएम मोदी पहले इसका हिसाब दें. यह पैसा कहां से आया और किसने दिया. भाजपा ने पूरे देश में करोड़ों रुपये की कीमत की कई जमीन खरीदी. उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा नेताओं ने अपना सारा पैसा बदल लिया. पूरे में कई भाजपा नेता नई करेंसी के साथ पकड़े गए.

आरबीआई का मतलब रिवर्स बैंक ऑफ इंडिया

कांग्रेस नेता नसीब सिंह ने कहा कि आरबीआई की फुल फार्म रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया नहीं बल्कि रिवर्स बैंक ऑफ इंडिया हो गया है. क्योंकि इन पचास दिनों में आरबीआई ने 115 बार नियमों में बदलाव किया.

नरेंद्र मोदी भ्रष्टाचार का जवाब दें

2013 में आयकर विभाग द्वारा बिरला ग्रुप पर छापेमारी में एक ईमेल मिला जिसमें 25 करोड़ रुपये पीएम को देने की बात है. वहीं 2014 में सहारा ग्रुप में आयकर विभाग के छापे में मिले दस्तावेज में 40 करोड़ रुपये से अधिक देने की बात है. पीएम मोदी इसका जवाब क्यों नहीं दे रहे हैं.

जिमखाना में होगी रैली

नोटबंदी के विरोध में कांग्रेस की 7 जनवरी को जिमखाना मैदान में रैली होगी. रैली में राज बब्बर, गुलाब नबी आजाद सहित कई बड़े नेता मौजूद रहेंगे.