लखनऊ (पीटीआई)। Coronavirus Lockdown in Uttar Pradesh: उत्तर प्रदेश सरकार ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए अब 17 जिलों में लागू लाॅकडाउन को दायरा और समय सीमा बढ़ाने का फैसला किया है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए पूरे उत्तर प्रदेश में लॉकडाउन करने का ऐलान किया है। न्यूज एजेंसी एएनआई के ट्वीट के मुताबिक यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि राज्य में 27 मार्च तक पूरी तरह से लाॅकडाउन किया जाएगा। सभी सीमाओं को सील कर दिया जाएगा। सभी उड़ानों, बसों, मेट्रो रेल और ट्रेनों का संचालन बंद रहेगा। हालांकि इस दाैरान उन्हाेंने कहा कि लोगों को इस दाैरान घबराने की जरूरत नही है।

पूरा उत्तर प्रदेश बुधवार से हो पूरी तरह हो जाएगा लाॅकडाउन

वहीं इस संबंध में सूचना के अतिरिक्त मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने कहा पूरा उत्तर प्रदेश बुधवार को बंद कर दिया जाएगा। राज्य के 75 जिलों में से 17 को कोरोना वायरस के पाॅजिटिव मामले सामने आने के बाद पहले ही लाॅकडाउन किया जा चुका है। यूपी में एक विदेशी सहित कोरोना वायरस के अब तक 33 मामले सामने आए हैं। बीते एक दिन पहले उत्तर प्रदेश के जिन 17 जिलों को 23 से 25 मार्च तक लॉकडाउन किया गया था। उनमें आगरा, लखनऊ, गौतम बौद्ध नगर, गाजियाबाद, मुरादाबाद, वाराणसी, लखीमपुर खीरी, बरेली, आजमगढ़, कानपुर, मेरठ, प्रयागराज, अलीगढ़, गोरखपुर, सहारनपुर, पीलीभीत, जौनपुर हैं।

खानपान की वस्तुओं के अलावा आवश्यक सेवाएं रहेंगी बहाल

सीएम ने योगी ने पहले भी लाॅकडाउन के तहत कहा था कि सामान्य आवागमन, सार्वजनिक गतिविधियां पूरी तरह प्रतिबंधित रहेंगी। वहीं आवश्यक सेवाएं भी बहाल रहेंगी। खानपान की वस्तुएं, फल-सब्जियों, ड्रिंकिंग वाटर, रसोई गैस (घरेलू व कॉमर्शियल) तथा पशुचारे की आपूर्ति, सभी फूड प्रोसेसिंग इकाइयां, पेट्रोल/डीजल/सीएनजी पंप, धान मिलें, दुग्ध प्लांट, डेयरी यूनिट, पशुचारा बनाने वाली इकाइयां, दवा और अन्य फार्मास्यूटिकल्स की दुकानें, स्वास्थ्य सेवाएं, चिकित्सा और स्वास्थ्य से जुड़े उपकरणों का निर्माण करने वाली इकाइयां, बैंक व एटीएम, टेलीकॉम सेवाएं, बीमा कंपनियां, डाकघर, गोदामों में गेहूं और चावल की लोडिंग काम जारी रहेगा।

Posted By: Shweta Mishra

National News inextlive from India News Desk