जिनेवा, 24 मार्च (आईएएनएस)विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने वैश्विक महामारी कोरोना वायरस या COVID-19 के खिलाफ आक्रामक कार्रवाई करने के लिए भारत का समर्थन किया है। डब्ल्यूएचओ के कार्यकारी निदेशक, डब्ल्यूएचओ माइकल जे. रयान ने सोमवार को एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा, यह काफी हद तक इस बात पर निर्भर करेगा कि भारत और चीन जैसे घनी आबादी वाले देश इस अभूतपूर्व स्वास्थ्य संकट से निपटने के लिए क्या करते हैं। रयान ने कहा, 'भारत बड़ी आबादी वाला देश है। इस महामारी का भविष्य काफी हद तक इस बात पर निर्भर होगा कि घनी आबादी वाले देशों में इसको लेकर क्या किया जाता है। यह वास्तव में महत्वपूर्ण है कि भारत लगातार सार्वजनिक स्वास्थ्य स्तर पर आक्रामक कार्रवाई करता रहे और समाज के स्तर पर इस बीमारी को नियंत्रित करे और जीवन को बचाए रखे।'

पोलियो और चेचक को खत्म करके भारत ने दुनिया को दिया उपहार

उन्होंने कहा, 'भारत ने छोटे चेचक को खत्म करने में दुनिया का नेतृत्व किया है। भारत ने लक्षित सार्वजनिक स्वास्थ्य बातचीत के माध्यम से, उस बीमारी को समाप्त कर दिया और दुनिया को एक महान उपहार दिया...भारत ने एक और मूक हत्यारा पोलियो को भी खत्म करके एक जबरदस्त काम किया। भारत में किसी भी बीमारी से लड़ने के लिए जबरदस्त क्षमता है। भारत अपने देश में कोरोना को खत्म करने के लिए शानदार कदम उठा रहा है।' बता दें कि रयान की टिप्पणी महत्त्वपूर्ण है क्योंकि वे ऐसे समय में आए हैं जब भारत ने कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सख्त लॉकडाउन उपाय किए हैं। सरकार ने सोमवार को कहा कि तीस राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों ने 548 जिलों को कवर करते हुए अपने पूरे क्षेत्रों में पूर्ण तालाबंदी की घोषणा की है।

Posted By: Mukul Kumar

International News inextlive from World News Desk