कानपुर। शुक्रवार को अमृतसर के जोरा रेलवे फाटक क्षेत्र के पास एक बड़ा हादसा हो गया। रेलवे लाइन के बगल में स्थित रामलीला मैदान पर मेले का आयोजन किया गया था। मेले में भीड़ ज्यादा होने के चलते लोग रेलवे लाइन पर खड़े होकर रावण दहन देख रहे थे। तभी पटरी पर तेज गति से गुजरती ट्रेन ने सैकड़ों लोगों को कुचल दिया। जिसमें 60 की मौत हो गई। मरने वालों में एक रावण भी है। एएनआई के मुताबिक, रामलीला में रावण का किरदार निभाने के बाद दलबीर सिंह नाम का शख्स पटरी पर खड़े होकर रावण दहन देख रहा था और ट्रेन की चपेत में आने से उसकी भी जान चली गई।
#amritsartrainaccident में रावण का किरदार निभा रहे दलबीर सिंह की भी हुई मौत
8 महीने का है बच्चा
खबरों की मानें तो दलबीर सिंह हर साल यहां की रामलीला में राम का अभिनय करते हैं। मगर इस बार दोस्तों के कहने पर वह रावण बने। अब इसे नियति ही कहेंगे कि उधर रावण का पुतला जल रहा था। इधर रावण का रोल अदा करने वाले दलबीर सिंह भी हादसे का शिकार हो गए। दलबीर सिंह शादीशुदा थे उनका एक 8 महीने का बच्चा भी है। दलबीर की मौत के बाद उनका पूरा परिवार गम में डूबा है। दलबीर की मां ने सरकार से अपील की है कि उनकी बहू को सरकारी नौकरी दी जाए।
#amritsartrainaccident में रावण का किरदार निभा रहे दलबीर सिंह की भी हुई मौत
अभी मृतकों की संख्या में और इजाफा हो सकता
पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों की मानें तो अभी मृतकों की संख्या में और इजाफा हो सकता है। वहीं शनिवार को अस्पतालों में घायलों का हाल-चाल लेने के लिए राजनेताओं की लाइन लगी है। पंजाब के राज्यपाल वीपी सिंह बदनौर ने अस्पताल दौरे के दौरान कहा कि यह बेहद दुखद घटना है।

अमृतसर में रावण दहन में काल बनी ट्रेन 60 की मौत कर्इ घायल, आर्थिक मदद का ऐलान, देखें अब तक का अपडेट

National News inextlive from India News Desk