आई इम्पैक्ट

डीजे आईनेक्स्ट की खबर पर जागा सदर हॉस्पिटल प्रबंधन, डीएस ने लगाई फटकार

-100 रुपए की जगह मरीजों को मिल रहा था 50 रुपए का खाना

ranchi@inext.co.in

RANCHI (24 March): सदर हॉस्पिटल सुपरस्पेशियलिटी विंग में मरीजों को खाना देने के मामले में डिप्टी सुपरिटेंडेंट ने अधिकारियों से जवाब मांगा है. वहीं, डाइट क्लर्क से लिखित स्पष्टीकरण भी मांगा है. इतना ही नहीं, डीएस ने सभी को जमकर फटकार भी लगाई है. साथ ही वार्निग भी दी है कि दोबारा मरीजों की डाइट के साथ खिलवाड़ हुआ तो उनपर कार्रवाई भी की जाएगी. दैनिक जागरण आईनेक्स्ट में 21 मार्च को सुपरस्पेशियलिटी हास्पिटल में प्रसूता महिलाओं को सामान्य मरीजों वाली डाइट देने की खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया गया था. इसके बाद डीएस ने अधिकारियों की क्लास लगाई.

प्रसूता की डाइट का चार्ट बना

प्रसूता महिलाओं को दिए जाने वाले डाइट का चार्ट भी बनाया गया है. ऐसे में अब महिलाओं को उसी डाइट चार्ट के हिसाब से खाना मिलेगा. ताकि उन्हें जरूरी पौष्टिक आहार मिल सके. इसमें सुबह का नाश्ता, दोपहर का लंच और रात का खाना शामिल है. वहीं चार्ट में यह भी तय है कि मरीजों को कितनी मात्रा में क्या चीज दी जानी है.

100 के बजाय 50 का भी डाइट नहीं

जननी शिशु सुरक्षा योजना के तहत प्रसूता महिलाओं को हर दिन 100 रुपए का डाइट दिया जाना है, ताकि उन्हें भरपूर पौष्टिक वाला खाना मिल सके. लेकिन विभाग के अधिकारियों और स्टाफ्स की मिलीभगत के कारण महिलाओं को 100 रुपए तो दूर 50 रुपए का भी डाइट नहीं मिल पा रहा था. ऐसे में मरीजों के हिस्से की डाइट की बंदरबांट की जा रही थी.

वर्जन

हमने अधिकारियों और स्टाफ्स को फटकार लगाई है. इसके बाद मरीजों के खाने में हाइजिन को ध्यान रखने को कहा गया है. स्टाफ्स को मरीजों को भरपूर डाइट देने को कहा है. अगर कोई लापरवाही करेगा तो उस पर कार्रवाई होगी.

-डॉ. एके झा, डीएस, सुपरस्पेशियलिटी सदर अस्पताल