चेन्नई (पीटीआई)। पूर्व भारतीय क्रिकेटर और नेशनल सलेक्टर रहे वीबी चंद्रशेखर की निधन की खबरों की हकीकत सामने आ गई। पुलिस का कहना है कि चंद्रशेखर की मौत हार्ट अटैक से नहीं बल्कि सुसाइड करने से हुई। एक सीनियर पुलिस अधिकारी ने शुक्रवार को बताया,  चंद्रशेखर ने गुरुवार को अपने घर पर पंखे से लटककर जान दे दी। वह कर्ज में डूबे हुए थे, जिसके चलते काफी तनाव में थे। चंद्रशेखर तमिलनाडु के विस्फोटक ओपनर बल्लेबाज माने जाते थे। 1987-88 में तमिलनाडु के रणजी चैंपियन बनने में चंद्रशेखर का अहम योगदान रहा था। तब वीबी ने क्वाॅर्टर फाइनल में उत्तर प्रदेश के अगेंस्ट 160 रन की पारी खेली थी। वहीं फाइनल में रेलवे के खिलाफ 89 रन बनाए जिसकी बदौलत तमिलनाडू को रणजी फाइनल में जीत मिली। यही नहीं रेस्ट ऑफ इंडिया के विरुद्घ ईरानी ट्राॅफी में चंद्रशेखर ने 56 गेंदों में शतक ठोंक दिया था, उस वक्त फर्स्ट क्लाॅस क्रिकेट में किसी भारतीय खिलाड़ी की यह सबसे तेज तर्रार पारी थी।


घरेलू क्रिकेट में तूफानी बैटिंग
घरेलू क्रिकेट में लगातार अच्छा प्रदर्शन करते आए वीबी चंद्रशेखर को आखिरकार 1988 में भारतीय क्रिकेट टीम में जगह मिली। हालांकि घरेलू क्रिकेट की तरह इंटरनेशनल क्रिकेट में वह ज्यादा नाम नहीं कमा पाए। चंद्रशेखर को अपने क्रिकेट करियर में सिर्फ 7 इंटरनेशनल मैच खेलने को मिले जिसमें वह कुल मिलाकर 100 रन भी नहीं बना पाए। वीबी के नाम वनडे में 12.57 की औसत से सिर्फ 88 रन दर्ज हैं जिसमें एक मैच में उन्होंने 53 रन की पारी खेली थी।


फर्स्ट क्लाॅस क्रिकेट में करीब 5000 रन
वीबी चंद्रशेखर का फर्स्ट क्लाॅस क्रिकेट में दमदार प्रदर्शन रहा था। दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने 81 मैचों में 43.09 की औसत से 4999 रन बनाए हैं जिसमें 10 शतक और 23 अर्धशतक शामिल हैं। 237 रन इनका हाईएस्ट इंडिविजुअल स्कोर है। वहीं लिस्ट ए की बात करें तो चंद्रशेखर ने 41 मैचों में 26.32 की औसत से 1053 रन बनाए।

देखें तस्वीरें : हड्डी टूटने के एक हफ्ते बाद लौटी ट्रैक पर, अब जीता बाइक रेसिंग का विश्व खिताब

धोनी को बनाया मिलियन डाॅलर बेबी
इंटरनेशनल क्रिकेट से रिटायरेंट के बाद वीबी चंद्रशेखर कई पदों पर रहे थे। आईपीएल में वह चेन्नई सुपर किंग्स टीम के मैनेजर भी रहे थे। इन्होंने ही पहली आईपीएल नीलामी में एमएस धोनी को 10 करोड़ रुपये देकर सीएसके में शामिल किया गया था। वो दिन था और आज है, तब से माही आईपीएल में चेन्नई के लिए ही खेलते हैं।

 

 

 

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

Cricket News inextlive from Cricket News Desk