स्वास्थ्य विभाग ने शुरू कर दिया योजना पर मंथन

vineet.tiwari@inext.co.in

ALLAHABAD: जिले के आर्थिक और सामाजिक रूप से पिछड़े परिवारों को जल्द ही फ्री इलाज की सुविधा उपलब्ध होगी. भारत सरकार की महत्वाकांक्षी आयुष्मान योजना को लेकर स्वास्थ्य विभाग ने कसरत शुरू कर दी है. विभागीय अधिकारियों व कर्मचारियों को ट्रेनिंग दिए जाने के बाद जल्द ही लाभार्थी सूची का सत्यापन किया जाएगा और पात्रों को चिन्हित कर रिपोर्ट भारत सरकार को भेजी जाएगी. उम्मीद है कि 15 अगस्त तक सरकार फ्री इलाज का तोहफा गरीबों को उपलब्ध करा देगी.

आ गई 19 लाख लाभार्थियों की सूची

इस योजना में उन्हीं को लाभ मिलेगा जो 2011 की जनगणना में शामिल होंगे. इस जनगणना में हुए सोशियो-इकोनॉमिक सर्वे के तहत आने वाले परिवारों की सूची भारत सरकार ने स्वास्थ्य विभाग को भेज दी है. इसमें 19 लाख लोग शामिल हैं. हालांकि, उरुवा ब्लॉक की सूची नहीं होने से एक लाख लोगों का बढ़ना तय माना जा रहा है. ऐसे में जिले 20 लाख लोगों को इस योजना का लाभ मिलेगा.

हटेंगे और जोड़े जाएंगे नाम

भारत सरकार द्वारा ट्रेंड अधिकारियों को जिले के अधीक्षक, सीएचसी प्रभारी, आशा, एएनएम आदि को ट्रेनिंग देने का लक्ष्य दिया गया है. इसके बाद एक से सात मई के बीच यह लोग अपने-अपने एरिया में जाकर सूची का सत्यापन करेंगे. इन परिवारों के मृतकों का नाम हटाया जाएगा. नए पैदा हुए बच्चों का नाम जोड़ा जाएगा. मुखिया चेंज हो गया है तो परिवार में उसका नाम पहले जोड़ा जाएगा. यह सत्यापन डोर टू डोर किया जाना है.

इस बार आधार नहीं होगा मेंडेटरी

अन्य योजनाओं की तरह इस बार सरकार ने लाभार्थियों के सत्यापन के लिए आधार को अनिवार्य नहीं किया गया है. सूची में शामिल परिवार का राशन कार्ड और मोबाइल नंबर का डेटा अपडेट किया जाना है. इसे कम्प्लीट कर सरकार के पास भेजा जाएगा. अधिकारियों का कहना है कि आधार का प्रतिशत पर्याप्त नहीं होने से इसे आयुष्मान योजना की लिस्ट से बाहर कर दिया गया है. आठ मई को सूची को एमओआईसी पोर्टल पर अपलोड कर देंगे.

25 अप्रैल को आशा और एएनएम को ट्रेनिंग दी जाएगी. इसके बाद सूची का सत्यापन किया जाएगा. 2011 की जनगणना के सोशियो इकनामिक सूची से लाभार्थियों का चयन किया गया है. यह सूची सीधे भारत सरकार ने भेजी है.

-डॉ. एके तिवारी, नोडल अधिकारी, स्वास्थ्य विभाग

इस महत्वाकांक्षी योजना में एक परिवार को पांच लाख रुपए तक के फ्री इलाज की सुविधा दी जाएगी. दूसरे चरण में प्राइवेट हॉस्पिटल्स का चयन किया जाना है. इसकी सूची भी तैयार कर केंद्र सरकार को भेजी जानी है.

-वीके सिंह, डिस्ट्रिक्ट प्रोग्राम मैनेजर, एनएचएम, इलाहाबाद

20 लाख के करीब है आयुष्मान योजना में जिले में लाभांवित होने वालों की संख्या

05 लाख तक के इलाज का लाभ मिलेगा लाभार्थी परिवार को

01 से 07 मई है सूची का सत्यापन तिथि

8 मई को सूची को अपलोड किया जाना है

59.59 लाख है 2011 जनगणना में जिले की जनसंख्या