- आदमपुर पुलिस ने रियाज हत्याकांड के दोनों आरोपियों को किया अरेस्ट, तेरह दिन बाद पुलिस को मिली सफलता

-29 जनवरी को खिड़किया घाट स्थित शाही नाला के पास मिला था अधजला शव

varanasi@inext.co.in
VARANASI : आदमपुर पुलिस ने हनुमान फाटक निवासी रियाज के हत्यारों आसिफ कुप्पा व आमिर सुहैल को तेरह दिन बाद दबोच लिया. मारपीट का बदला लेने को दोस्तों ने उसे पहले खूब शराब पिलायी और फिर खिड़कियां घाट स्थित शाही नाला के पास ले जाकर ईट से सिर कूचकर हत्या कर दी. पहचान छुपाने को उसी के जैकेट से उसका चेहरा भी जला दिया. 29 जनवरी की सुबह घाट वासियों की सूचना पर पहुंची आदमपुर पुलिस छानबीन में जुटी थी. शुक्रवार को पुलिस लाइन में एसएसपी आनंद कुलकर्णी ने आरोपियों को मीडिया के सामने पेश किया. पूछताछ में आरोपियों ने कबूल किया कि कोनिया में बुनकरी कार्य के दौरान रियाज अपने दोस्त आशिफ उर्फ अहिरा के साथ मिलकर मारा पीटा था. जिसका बदला लेने के लिए उसे बहाने से दशाश्वमेध घाट बुलाए और फिर नशा करने के बाद खिड़कियां घाट ले जाकर घटना को अंजाम दिया.

 

चौक चबूतरे से दबोचा

सीओ कोतवाली बृजनंदन राय ने बताया कि रियाज के पिता ने अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था. जिसकी तफ्तीश चल रही थी कि तभी आदमपुर थाना प्रभारी निरीक्षकराजीव सिंह को सूचना मिली कि वारदात में संलिप्त आरोपी सप्लाई आफिस इमाम चौक चबूतरे के पास मौजूद हैं. पुलिस ने घेराबंदी करते हुए आमिर सुहेल व आसिफ कुप्पा शाह को गिरफ्तार किया. दोनों आरोपी दुल्ली गढ़ही थाना कोतवाली निवासी हैं. गिरफ्तारी टीम में प्रभारी निरीक्षक राजीव सिंह, एसआई प्रेमनारायण सिंह, एसआई आशीष मिश्रा, प्रकाश यादव, अनिल यादव आदि रहे.