साल में चौथी बार 72 रुपये को पार हुआ पेट्रोल का दाम

Meerut. बीते शुक्रवार को आम बजट घोषित होने के तुरंत बाद अगले ही दिन शनिवार को पेट्रोलियम कंपनियों ने पेट्रोल के दाम में तुरंत इजाफा कर वाहन चालकों को झटका दे दिया. शनिवार को पेट्रोल का दाम 1.92 पैसे के इजाफे के साथ कीमत 72.06 पैसे पहुंच गई. इस साल में पेट्रोल में 72 रुपए से अधिक यह चौथी बार इजाफा हुआ है, जबकि अभी तक जुलाई में पेट्रोल की अधिकतम कीमत शुक्रवार तक 70.14 रुपये थी.

घोषणा के बाद असर

बजट घोषित होने के बाद शुक्रवार रात 12 बजे तक पेट्रोल का दाम 70.14 रुपये था, लेकिन शनिवार को तुरंत दाम में 1.92 रुपये का इजाफा कर दिया गया, हालांकि रुटीन में रोजाना पेट्रोल के दाम में इजाफा या कमी आ रही थी, लेकिन एक दम से 1.92 रुपये के इजाफे ने वाहन चालकों को झटका दे दिया. जुलाई माह में पिछले तीन दिन यानि 3, 4 व 5 जुलाई को किसी प्रकार का इजाफा नही किया गया था. इस माह में इससे पहले 2 जुलाई को 4 पैसे का इजाफा हुआ था.

जुलाई माह में पेट्रोल के दाम-

दिनांक दाम इजाफा

6 जुलाई 72.06 1.92

5 जुलाई 70.14 0

4 जुलाई 70.14

3 जुलाई 70.14

2 जुलाई 70.14 4 पैसा

1 जुलाई 70.10 3 पैसा

तीन माह 72 से ऊपर रहा पेट्रोल

गत छह माह के आंकड़ों पर नजर डालें तो गत छह में तीन माह मार्च, अप्रेल और मई माह में पेट्रोल का दाम 72 से अधिक रहा था. जुलाई माह में यह चौथी बार पेट्रोल के दाम में 72 से ऊपर इजाफा हुआ है.

अधिकतम न्यूनतम

फरवरी 71.13 69.99

मार्च 72.02 71.19

अप्रेल 72.19 71.93

मई 72.22 71.57

जून 71.03 69.72

जुलाई 72.06

बजट में घोषित होने के बाद कंपनियों ने दाम में इजाफा कर दिया है. संभावना है कि पेट्रोल का दाम अब 70 रुपये से ऊपर ही रहेगा.

आर के जैन, अध्यक्ष पेट्रोलियम एसोसिएशन

पेट्रोल के दाम में इजाफा बजट में घोषित होने के बाद से ही आम आदमी पर वार कर दिया था. यह इजाफा मिडिल क्लास के बजट को बिगाड़ देगा.

शशांक

पेट्रोल के रेट में बढ़ोत्तरी से आम आदमी को परेशानी बढ़ गई है. यह महज बड़ी कंपनियों को फायदा पहुंचने के लिए यह इजाफा किया गया है.

सुदेश

पेट्रोल व डीजल के दाम सीधा तौर पर आम जनता को प्रभावित करते है. यह केवल गाडि़यों में तेल डलवाने तक सीमित नही है बल्कि दैनिक जरुरतों के दाम को भी प्रभावित करेगा.

सोनू