- यूनिवर्सिटी प्रशासन 15 फीसदी बढ़ाएगा एग्जाम फीस

- परीक्षा खर्च बढ़ने के कारण लिया गया निर्णय

lucknow@inext.co.in

LUCKNOW :

डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम टेक्निकल यूनिवर्सिटी (एकेटीयू) प्रशासन ने नए सेशन से एग्जामिनेशन फीस में तकरीबन 15 प्रतिशत इजाफा करने का निर्णय लिया है. यह बढ़ी फीस नए सेशन से लागू होगी. इस बारे में यूनिवर्सिटी की ओर से सभी संस्थाओं को जल्द ही सूचना भेजी जाएगी. यूनिवर्सिटी के सूत्रों का कहना है कि जीएसटी लागू होने के बाद एग्जाम प्रक्रिया में होने वाले खर्च में इजाफा हुआ है.

सभी कॉलेजों की बढ़ेगी फीस

मौजूदा समय में एकेटीयू से पूरे प्रदेश में करीब सवा छह सौ इंजीनियरिंग और मैनेजमेंट कॉलेज संबद्ध हैं. इन सभी कॉलेजों में यूनिवर्सिटी की ओर से सेमेस्टर सिस्टम के तहत एग्जाम कराए जाते हैं. इसके लिए यूनिवर्सिटी प्रत्येक स्टूडेंट से साढ़े छह हजार रुपए प्रति सेमेस्टर फीस लेती है. यूनिवर्सिटी प्रशासन इस बार एक हजार रुपए प्रति सेमेस्टर एग्जाम फीस बढ़ाने जा रहा है. यानी कि नए सेशन से स्टूडेंट्स को एग्जाम फीस के तौर पर साढ़े सात हजार रुपए प्रति सेमेस्टर जमा करना होगा.

जीरो फीस पर एडमिशन पर देनी होगी एग्जाम फीस

वहीं यूनिवर्सिटी प्रशासन ने नए सेशन से जीरो फीस पर एडमिशन लेने वाले स्टूडेंट्स से भी एग्जाम फीस जमा कराने का निर्णय लिया है. पिछले साल जीरो फीस पर जिन स्टूडेंट्स के एडमिशन हुए थे, उनकी समाज कल्याण विभाग की ओर से फीस प्रतिपूर्ति की जा रही है. पर इस साल समाज कल्याण विभाग की ओर से फीस प्रतिपूर्ति में घपलेबाजी सामने आने के कारण स्टूडेंट्स की फीस रोकी गई है. जिस कारण यूनिवर्सिटी प्रशासन ने जीरो फीस वाले स्टूडेंट्स के एग्जाम फीस न जमा होने के कारण उनका दिसंबर जनवरी में हुए सेमेस्टर एग्जाम का रिजल्ट रोक दिया है.

समाज कल्याण विभाग से मिलकर निर्णय

इस पूरे घटनाक्रम के बाद एकेटीयू प्रशासन व समाज कल्याण ने मिलकर निर्णय लिया है कि नए सेशन से जीरो फीस पर एडमिशन लेने वाले सभी स्टूडेंट्स को संस्थान में एग्जाम फीस जमा कराना होगा. यदि संस्थान खुद इन स्टूडेंट्स की फीस भरने में सक्षम है तो वह भी फीस यूनिवर्सिटी का जमा करा सकता है. बाद में वह स्टूडेंट्स फीस प्रतिपूर्ति होने के बाद उनसे फीस ले सकता है. वहीं बीटेक लास्ट इयर के स्टूडेंट्स के मूक्स कोर्स करना अनिवार्य है. यह कोर्स आईआईटी कानपुर के सहयोग से चल रहा है. प्रत्येक कोर्स की एक हजार रुपए फीस है. इन स्टूडेंट्स की फीस यूनिवर्सिटी ने जमा की है, लेकिन नए सेशन से मूक्स कोर्स की फीस भी स्टूडेंट्स को जमा करना होगा.

एकेडमिक काउंसिल में पहले से ही तय कर लिया गया था कि नए सेशन से एग्जाम फीस में एक हजार रुपए की बढ़ोत्तरी की जाएगी. अब स्टूडेंट्स 7500 हजार रुपए प्रति सेमेस्टर एग्जाम फीस जमा करना होगा. इसके अलावा मूक्स कोर्स के लिए भी अब स्टूडेंट्स को फीस देना होगा.

प्रो. राजीव कुमार

एग्जाम कंट्रोलर, एकेटीयू