अब मिल रही जानकारियों के अनुसार हिटलर कोकीन के नशेड़ी थे और अपनी सेक्स लाइफ को बेहतर करने के लिए कई दवाईयां भी खाया करते थे.

अलेक्ज़ेंडर हिस्टॉरिकल ऑक्शन्स ऑफ स्टांपफोर्ड (एएचए)कुछ ऐसे दस्तावेजों की नीलामी कर रहा है जिसमें ये बातें सामने आई हैं. एएचए के पास मौजूद मेडिकल दस्तावेजों के अनुसार हिटलर का स्वास्थ्य बहुत अच्छा नहीं था.

जो दस्तावेज नीलाम हो रहे हैं उसमें हिटलर की खोपड़ी के दस एक्सरे, ईईजी टेस्ट के कई परिणाम और उनकी नाक के अंदरुनी हिस्से के स्केच भी शामिल हैं.

दस्तावेजों में 47 पन्नों की एक रिपोर्ट भी है जिसे छह डॉक्टरों ने मिलकर तैयार किया था जो हिटलर की अलग अलग बीमारियों की जांच करते थे.

एक दस्तावेज ऐसा भी है जिसके अनुसार हिटलर कोकीन का सेवन करते थे क्योंकि उन्हें साइनस की समस्या थी. इतना ही नहीं हिटलर उदरवायु की समस्या से भी परेशान रहते थे.

उदरवायु और साइनस की समस्या को ठीक करने के लिए वो एक समय में 28 दवाईयां खाते थे जिसमें एंटी-गैस टेबलेट भी शामिल था. इस दवा में एक धीमा जहर हुआ करता था जिसके कारण हिटलर के पेट में दर्द रहता था. एक डॉक्टर थियोडोर मॉरेल की रिपोर्ट के अनुसार हिटलर सांड के वीर्य से बनी दवाईयों का इंजेक्शन भी लेते थे.

International News inextlive from World News Desk