- रायपुर के पास दुल्हनी नदी किनारे अतिक्रमण हटाने गई थी प्रशासन की टीम

- बुलडोजर ने जलस्तर बढ़ने पर किया काम बंद, अतिक्रमण हटाने के लिए मंगाई जाएगी बड़ी मशीनें

देहरादून,

रायपुर के पास दुल्हनी नदी के किनारों से अतिक्रमण हटाने गई टीम को बैरंग लौटना पड़ा. दरअसल नदी में पानी का बहाव इतना ज्यादा था कि बुलडोजर फेल हो गया और बुलडोजर चालक ने ऐसे में काम करने से इनकार कर दिया. अतिक्रमण नहीं हट पाया तो प्रशासन ने लोगों को खुद अपना अतिक्रमण हटाने के निर्देश दिए.

चल रही कवायद

बरसात में नदियों के किनारे बसे लोगों को दूसरी जगह शिफ्ट करने की कवायद चल रही है. इसी के मद्देनजर एसडीएम सदर कमलेश मेहता के नेतृत्व में प्रशासन की टीम बुलडोजर लेकर दुल्हनी नदी किनारे अतिक्रमण हटाने पहुंची. एसडीएम के मुताबिक नदी किनारे सिंचाई विभाग के पुश्तों से भी दो-तीन मीटर आगे तक बस्ती वालों का कब्जा पाया गया, जो अवैध है. नदी का जलस्तर बढ़ने पर अतिक्रमण कर बनाए गए घर बाढ़ की चपेट में आ सकते हैं, इसीलिए प्रशासन द्वारा ये निर्माण हटाये जाने की बात कही जा रही है.

10 मकानों के पुश्ते तोड़े

बुधवार को प्रशासन की टीम ने अतिक्रमण कर बनाए गए करीब 10 मकानों के पुश्ते ही तोड़े थे कि इस बीच नदी का जलस्तर बढ़ गया. जलस्तर बढ़ने से बुलडोजर ने काम करना बंद कर दिया. चालक ने हाथ खड़े कर दिए. एसडीएम ने बताया कि ऐसे में कार्रवाई रोकनी पड़ी, अब बड़ी मशीनों के लिए ठेकेदारों से बात की जा रही है, ताकि नदी के बहाव में भी अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई हो सके.