विराट कोहली की बेहतरीन शतकीय पारी के बावजूद भारतीय टीम आज यहां क्रिकेट आस्ट्रेलिया अध्यक्ष एकादश के खिलाफ अभ्यास मैच में 269 रन पर आउट हो गई लेकिन आफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन चार विकेट लेकर टीम को वापसी दिलाने में सफल रहे.

कोहली ने 171 गेंद पर 18 चौकों और दो छक्कों की मदद से 132 रन बनाए और इस तरह से टेस्ट टीम की अंतिम एकादश के लिए अपना स्थान लगभग पक्का किया. भारतीय टीम हालांकि आखिरी पांच विकेट 62 रन के अंदर गंवाने के कारण बड़ा स्कोर खड़ा नहीं कर पाई. मेजबान टीम की तरफ से बाएं हाथ के स्पिनर जान हालैंड ने 70 रन देकर छह विकेट लिए.

अध्यक्ष एकादश के लिए सलामी बल्लेबाज एड कोवान ने भी 109 रन बनाकर आस्ट्रेलियाई टीम की तरफ से टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण करने का दावा मजबूत किया. अश्विन ने इसके बाद बल्लेबाजों को अपनी स्पिन गेंदों के जाल में फंसाया जिससे अध्यक्ष एकादश की टीम ने दूसरे दिन का खेल समाप्त होने तक सात विकेट पर 214 रन बनाए. अश्विन ने अभी तक 52 रन देकर चार विकेट लिए हैं.

भारतीय तेज गेंदबाजी के अगुआ जहीर खान हालांकि प्रभावित नहीं कर पाए. चोट से उबरने के बाद वापसी करने वाले बाएं हाथ के इस गेंदबाज ने दस ओवर किए और 41 रन दिए तथा उन्हें कोई विकेट नहीं मिला. कोवान और उस्मान ख्वाजा  25 ने उन पर आसानी से रन बटोरे तथा दूसरे विकेट के लिए 76 रन जोड़े. जहीर ने चाय के विश्राम से पहले तक छह ओवर किए और फिर पवेलियन लौट गए थे.

अभिमन्यु मिथुन ने पारी के पहले ओवर में ही डेविड वार्नर  2 को बोल्ड किया जबकि ख्वाजा को उमेश यादव ने विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी के हाथों कैच कराया. फिलिप ह्यूज  20 ने अपने सभी रन चौके जडक़र बनाए लेकिन चाय के विश्राम से ठीक पहले उन्होंने अश्विन की गेंद पर गलत टाइमिंग से स्वीप करने के प्रयास में अपना विकेट गंवाया जिससे लगता है कि उन्हें मेलबर्न टेस्ट की टीम में नहीं चुना जाएगा.

    कोवान ने चयनकर्ताओं को प्रभावित करने में सफल रहे. उन्होंने तीसरे सत्र में अश्विन की गेंद पर आउट होने से पहले 154 गेंद का सामना किया तथा 16 चौके लगाए. अश्विन ने इसके बाद एलेक्स डूलान शून्य और टाम कूपर 38 को भी आउट किया जबकि बाएं हाथ के स्पिनर प्रज्ञान ओझा ने दिन की आखिरी गेंद पर कैमरून बायस को बोल्ड किया. तब दूसरे छोर पर टिम ल्यूडमैन 15 रन बनाकर खेल रहे थे.

इससे पहले भारतीय पारी का आकर्षण कोहली का शतक रहा. उनको छोडक़र अन्य भारतीय बल्लेबाज प्रभावित करने में नाकाम रहे. रोहित शर्मा  47 भी अर्धशतक से चूक गए.

कप्तान धोनी ने 12 गेंद पर तीन रन बनाने के बाद मिड आन पर हवा में लहराता कैच थमाया. निचले क्रम के बाकी बल्लेबाज भी आयाराम गयाराम साबित हुए जिससे भारतीय टीम लंच से आधे घंटे पहले ही आउट हो गई. माना जा रहा था कि भारतीयों को तेज और स्विंग गेंदों से परेशानी होगी लेकिन उन्हें सबसे अधिक नुकसान हालैंड ने पहुंचाया. उन्होंने सुबह धोनी, अश्विन, कोहली, जहीर और मिथुन को आउट किया.

Cricket News inextlive from Cricket News Desk