शादी के ठीक पहले 'इश्क' ने ली दूल्हे की परीक्षा थाने से पहुंचा फोन प्रेमिका ने खोली पोल

2019-06-08T10:50:42Z

प्रयागराज में एक चाैकाने वाला मामला सामने आया है यहां मार्केटिंग कंपनी में काम करने के दौरान आए नजदीक लड़के की शादी तय हुई तो युवती थाने पहुंची युवती ने बारात निकलने से कुछ घंटे पहले ही युवक की पोल खाेल दी

prayagraj@inext.co.in
PRAYAGRAJ: शनिवार को बारात जानी थी तो घर में खुशी का माहौल था. शापिंग-मार्केटिंग के साथ ही बारात निकलने से पहले की रश्में अदा की जा रही थीं. रिश्तेदार पहुंच चुके थे. किसी को सपने में भी अंदेशा नहीं था कि कौन सी मुसीबत सिर पर मंडरा रही है. थाने से फोन आया तो सबके कान खड़े हो गये. पुलिस ने दूल्हे के साथ उसके परिजनों को भी थाने तलब कर लिया था. यह जानकर पूरा परिवार सन्नाटे में आ गया. अनहोनी की आशंका में परिवार थाने पहुंचा तो ऐसे सच से सामना हुआ जिससे उनके पैरों तले से जमीन खिसक गयी.

शांतिपुरम में है मार्केटिंग कंपनी का ऑफिस
मामला है सोरांव थाना क्षेत्र का. लड़की शांतिपुरम और लड़का होलागढ़ के रहने वाले हैं. लड़के की शादी तय हो चुकी है और शनीवार को उसकी बारात जानी है. दोनो शांतिपुरम फाफामऊ में एक मार्केटिंग कंपनी में साथ काम करते हैं. लड़की का रिपोर्टिग बॉस आरोपित लड़का है. सहेलियों के साथ सोरांव थाने पहुंची लड़की ने सनसनीखेज आरोप लगाया कि दोनों साथ काम करने के दौरान काफी नजदीक आ गये थे. लड़के ने भरोसा दिलाया था कि वह उसी से शादी करेगा. इसके चलते दोनों में पति-पत्‌नी जैसा संबंध भी बन गया था. लड़की का आरोप था कि उसके साथ संबंध रखने के बाद भी उसके प्रेमी की शादी दूसरी जगह तय हो गयी है.

थाने से गया फोन तो पहुंचे परिजन
लड़की की बातों को सुनने और सब कुछ लिखित में देने के बाद पुलिस हरकत में आ गयी. थाने से लड़के को फोन करके परिवार के साथ थाने पहुंचने को कहा गया. थाने से फोन आने पर युवक परिवारवालों के साथ पहुंच गया. सामने प्रेमिका को देखकर उसे माजरा समझ में आ गया. एसओ और सीओ की मौजूदगी में दोनों ने अपनी बात रखी. इसके बाद मसले का हल ढूंढने के लिए दोनों पक्षों के लोग करीब दो घंटे तक थाने में बैठे रहे. इसके बाद दोनों पक्षों में समझौता हो गया.

मामला आया था. दोनो पक्ष थाने में करीब दो घंटे तक रहे. यहां दोनों में समझौता हो गया. लड़की ने लिखकर दे दिया है कि वह कोई कार्रवाई नहीं चाहती. इसलिए दोनों पक्षों को घर भेज दिया गया है.

अरुण कुमार चतुर्वेदी

एसओ सोरांव

Posted By: Vijay Pandey

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.