बिहार में बाढ़ से 66 लाख से अधिक लोग प्रभावित, 16 जिलों में NDRF व SDRF की 33 टीमें तैनात, सीएम नीतीश ने किया हवाई सर्वेक्षण

Updated Date: Thu, 06 Aug 2020 12:21 PM (IST)

बिहार में बाढ़ की वजह से प्रभावित करीब 16 जिलों में एनडीआरएफ और एसडीआरएफ सहित 30 से अधिक टीमों को राहत व बचाव कार्य में लगाया गया है। बाढ़ की वजह से यहां की करीब 6660655 की आबादी प्रभावित है। मुख्यमंत्री ने बुधवार को राज्य के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण भी किया।

पटना (एएनआई)। बिहार के कई जिलों में इन दिनों बाढ का पानी भरने से तबाही मची है। उफनती नदियों के पानी से लाखों लोग बेहाल हैं। राज्य सरकार के आपदा प्रबंधन विभाग के अनुसार बिहार में कई जिलों को प्रभावित करने वाली बाढ़ से निपटने के लिए राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) और एसडीआरएफ सहित 30 से अधिक टीमों को तैनात किया गया है। विभाग द्वारा बुधवार को जारी आंकड़ों के अनुसार, राज्य के 16 जिले बढ़ते पानी से प्रभावित हुए हैं।

खगड़िया, सहरसा एवं दरभंगा में नाव डूबने की घटनाएं दुःखद। जिला प्रशासन को मैंने यह निर्देश दिया है कि वे मृतकों के आश्रितों को अविलंब अनुग्रह राशि उपलब्ध कराएं। https://t.co/vC7VTmGlEw

— Nitish Kumar (@NitishKumar) August 5, 2020


66,60,655 की आबादी बाढ़ से हुई प्रभावित
इस बाढ़ की वजह से 19 लोगों की माैत हुई और 66,60,655 की संयुक्त आबादी प्रभावित हुई। बुधवार तक कुल 12,202 लोगों को राहत शिविरों में भेजा गया है। वहीं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य के बाढ़ प्रभावित जिलों खगड़िया, सहरसा और दरभंगा में नावों के पलट जाने की तीन अलग-अलग घटनाओं में लोगों की जान जाने पर शोक व्यक्त किया और जिला प्रशासन को मृतक के परिजनों को अनुग्रह राशि प्रदान करने का निर्देश दिया। उन्हाेंने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है।

Bihar Chief Minister Nitish Kumar conducted an aerial survey of the flood-affected areas today. #BiharFloods pic.twitter.com/wABkWGjaYH

— ANI (@ANI) August 5, 2020
बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण भी किया
नीतीश कुमार ने अपने ट्वीट के साथ 5 अगस्त की बिहार सरकार की एक प्रेस विज्ञप्ति भी जारी की। मुख्यमंत्री ने बुधवार को राज्य के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण भी किया। इसके अलावा बाढ़ से प्रभावित जिलों में से एक, दरभंगा में बाढ़ पीड़ितों के लिए बाढ़ राहत शिविर और सामुदायिक रसोई का भी दौरा किया।

Posted By: Shweta Mishra
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.