एयरपोर्ट पर पार्किंग विवाद में रूपेश का मर्डर : डीजीपी

Updated Date: Wed, 20 Jan 2021 02:40 PM (IST)

- डीजीपी एसके सिंघल बोले, प्रथम दृष्टया एयरपोर्ट पार्किंग विवाद और रुपए की लेन-देन में हत्या का शक

PATNA : डीजीपी एसके सिंघल ने एयरपोर्ट पार्किंग के विवाद में रूपेश कुमार सिंह की हत्या किए जाने का शक जाहिर किया है। मंगलवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मिलने के बाद बाहर निकले डीजीपी ने पत्रकारों से कहा कि एयरपोर्ट की पार्किंग को लेकर बहुत बड़ा विवाद चल रहा था। इसके अलावा उनके परिजनों या जान-पहचान वाले लोगों के ठेकेदारी से जुड़ा इश्यू भी आया था मगर इसमें कोई बात सामने नहीं आई है। मूल चीज यही है कि जो विवाद है वो रुपये-पैसे को लेकर या पार्किंग को लेकर ही लगता है। पुलिस ने ह्यूमन और तकनीकी इंटेलिजेंस की मदद ली है। इस मामले में थोड़ा और काम करने की जरूरत है कि केस स्ट्रॉंग बन जाए। हमें पूरा भरोसा है कि पुलिस केस का उद्भेदन कर लेगी।

हत्या मामले में डीआरआइ कनेक्शन के बाबत पूछे जाने पर डीजीपी ने कहा कि मर्डर केस में कई सारे एंगल और कई सारी बातें आती हैं। कई एंगल पर पुलिस ने काम किया है। ऐसी कोई बात नहीं है। इस बाबत एडीजी मुख्यालय जितेंद्र कुमार ने कहा कि रूपेश हत्याकांड का अनुसंधान चल रहा है। सभी एंगल पर जांच की जा रही है। अभी तक जो इनपुट मिले हैं, उससे लग रहा है कि पुलिस जल्द ही इस मामले का पर्दाफाश कर देगी।

शूटर की तलाश में एसटीएफ-एसआइटी

पुलिस की अब तक की जांच में यह भी स्प्ष्ट हो गया है कि रूपेश की हत्या सुपारी देकर प्रोफेशनल शूटर से कराई गई थी। ऐसे में एसटीएफ के साथ एसआइटी की टीम शूटरों की तलाश में लगातार इनपुट जुटा रही है। पुलिस की अलग-अलग टीमें छापेमारी भी कर रही है। पुलिस सूत्रों का दावा है कि शूटर को गिरफ्तार करके ही पुलिस मामले का पर्दाफाश करेगी।

सीएम की हिदायत, अपराधियों के खिलाफ सख्ती से पेश आएं

सीएम नीतीश कुमार ने डीजीपी एसके सिंघल को अपने आवास पर बुलाकर रूपेश सिंह हत्याकांड की जांच के बारे में पूरी जानकारी ली। नीतीश ने डीजीपी को यह निर्देश दिया कि इस हत्याकांड का उद्भेदन कर दोषियों की अविलंब गिरफ्तारी सुनिश्चित करें। इस तरह के मामले में पुलिस अपराधियों के खिलाफ पूरी सख्ती से पेश आएं।

बर्दाश्त नहीं की जाएगी शिथिलता

डीजीपी ने सीएम को हत्याकांड के अनुसंधान से जुड़े सभी तथ्यों से अवगत कराया। सीएम ने उन्हें यह निर्देश दिया कि राज्य के अन्य जिलों में भी इस तरह के लंबित मामलों में त्वरित कार्रवाई कर दोषियों को अविलंब गिरफ्तार किया जाए। सरकार ऐसे मामलों में दोषियों की गिरफ्तारी को लेकर पूरी तरह संवेदनशील एवं गंभीर हैं। सीएम ने कहा कि ऐसे गंभीर मामलों में किसी भी तरह की शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.