सगाई के एक दिन पहले मिली लाश, दो दिन से थी लापता

Updated Date: Fri, 13 Dec 2019 05:45 AM (IST)

- सेवादार की लापता बेटी की लाश महाराजपुर हाईवे पर मिली, 9 दिसंबर को श्रमशक्ति से दिल्ली जाने के लिए घर से निकली थी

-दिल्ली न पहुंचने पर परिजन रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए दो दिन काटते रहे थाने के चक्कर, रिपोर्ट लिखने के बाद भी नहीं की कोई कोशिश

KANPUR : नजीराबाद से लापता गुरुद्वारा सेवादार की बेटी की हत्या कर शव को हाइवे किनारे फेंक दिया गया। उसकी फ्राईडे को सगाई होनी थी। उससे एक दिन पहले शव मिलने से घर में कोहराम मच गया। इधर उसका बेबस पिता उसके गुमशुदा होने के बाद से रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए थाने से लेकर जीआरपी और आरपीएफ के चक्कर लगाता रहा। दो दिन टहलाने के बाद पुलिस ने रिपोर्ट तो दर्ज कर ली, लेकिन उनकी बेटी को ढूंढने की कोशिश तक नहीं की। जब युवती का शव मिला तब पुलिस हरकत में आई। माना जा रहा है कि रेप के बाद युवती की हत्या की गई है।

फ्राईडे को होनी थी सगाई

जवाहर नगर स्थित गुरुद्वारा बन्नो साहिब के मुख्य ग्रंथी (सेवादार) जसविंदर सिंह (काल्पनिक नाम) है। जसविंदर परिवार के साथ गुरुद्वारे में ही रहते हैं। उनके परिवार में पत्नी दो बेटे और दो बेटियां थीं। जिसमें एक बेटा दिल्ली के गुरुद्वारा में सेवादार है। दिल्ली निवासी बेटे और बेटी जसप्रीत कौर (काल्पनिक नाम) की शादी तय हो गई थी। जसप्रीत की 13 दिसंबर को सगाई होनी थी, जबकि उसके भाई की 24 जनवरी को शादी होनी थी। जसप्रीत भाई का सेहरा खरीदने के लिए 9 दिसंबर को दिल्ली जाने के लिए रात 9.15 बजे घर से निकली थी। अगले दिन भाई ने परिजनों को जसप्रीत के दिल्ली न पहुंचने की जानकारी दी तो परिजनों के होश उड़ गए।

पुलिस को बताया जिम्मेदार

दो दिन थाने के चक्कर लगाने के बाद 11 दिसंबर की शाम को नजीराबाद पुलिस ने उनकी रिपोर्ट दर्ज की, लेकिन बेटी को ढूंढने की कोशिश तक नहीं की। थर्सडे शाम को महाराजपुर हाइवे किनारे महुआ गांव के पास किसी युवती की लाश मिलने की जानकारी नजीराबाद पुलिस को हुई। पुलिस जसविंदर को परिजनों को शिनाख्त कराने महाराजपुर ले गए। वहां जसविंदर बेटी का शव देखकर बदहवास हो गए। इधर, जैसे ही गुरुद्वारा से जुड़े लोगों को जसविंदर की बेटी की मौत का पता चला तो पोस्टमार्टम में भीड़ लग गई। उन लोगों ने पुलिस को बेटी की मौत का जिम्मेदार बताया।

मां.टिकट कंफर्म हो गया

पिता के मुताबिक बेटी ने श्रमशक्ति एक्सप्रेस से दिल्ली जाने का रिजर्वेशन कराया था, लेकिन वह कंफर्म नहीं था। उसने सेंट्रल स्टेशन पर पहुंच कर करीब 10 बजे मां को फोन कर बताया था कि टिकट कंफर्म हो गया है। रात 12 बजे मां ने बेटी को फोन किया तो नॉट रिचेबल था। मां ने सुबह फोन मिलाया, लेकिन फोन नहीं मिला। जब बेटे सुरेंद्र ने उनको फोन कर बताया कि जसप्रीत दिल्ली नहीं पहुंची, तब उनको अनहोनी का शक हुआ।

.तो उसने झूठ क्यों बोला

जीआरपी इंस्पेक्टर राम मोहन राय के मुताबिक, लापता युवती के पिता के कहने पर श्रमशक्ति के रिजर्वेशन चार्ट चेक किया था, लेकिन न तो युवती की सेंट्रल आने की कोई फुटेज मिली और न रिजर्वेशन चार्ट में नाम था। सगाई के पहले युवती का लापता होना और उसका परिजनों से फोन पर झूठ बोलने से साजिश के तहत उसकी हत्या का शक जताया जा रहा है। वहीं, कुछ लोग रेप के बाद युवती की शक जता रहे है। पुलिस को शक है कि युवती की हत्या कहीं और करने के बाद शव को यहां फेंका गया है। युवती के सिर के पीछे गहरा जख्म है। इससे किसी भारी वस्तु से वार कर हत्या का शक है।

आरोपी अरेस्ट होंगे तभी अंतिम संस्कार

बेटी का शव देखकर जसविंदर फफकते हुए कह रहे थे कि पुलिस उनको टहलाने के बजाय बेटी को ढूंढने में लग जाती तो वो आज जिंदा होती। जसविंदर ने बताया कि वह पहले नजीराबाद थाने गए तो उन्हे जीआरपी भेज दिया गया। जीआरपी गए तो आरपीएफ भेज दिया। आरपीएफ ने कहा कि जब कोई लिखकर देगा तभी फुटेज दिखा सकते हैं। बहुत गिड़गिड़ाने के बाद सीसीटीवी फुटेज दिखाए गए। परिजनों ने पुलिस को बेटी की मौत का जिम्मेदार बताते हुए पैनल से पोस्टमार्टम कराने की मांग की। यह भी कहा कि हत्यारों के पकड़े जाने के बाद ही वह बेटी का अंतिम संस्कार करेंगे।

भाजपा नेता ने दी धमकी

सेवादार की बेटी के लापता होने पर जब पुलिस सुनवाई नहीं कर रही थी। तब गुरुद्वारा बन्नो साहिब के मैनेजर कमलजीत सिंह ने मीडिया को बुलाकर कांफ्रेंस की। साथ ही उन्होंने सोशल मीडिया में बेटी की फोटो वायरल की। कमलजीत सिंह का आरोप है कि वे लोग बेटी की तलाश में जुटे थे तभी एक भाजपा नेता ने उनके ऑफिस आकर धमकी देते हुए कहा था कि भाजपा को बदनाम मत करो।

---------

'युवती के हत्यारों का पता लगाया जा रहा है। रिपोर्ट दर्ज करने में पुलिस की भूमिका की जांच कराई जाएगी। अगर कोई पुलिसकर्मी दोषी पाया गया तो सख्त कार्रवाई की जाएगी.'

अनंतदेव, एसएसपी कानपुर नगर

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.