विवेक तिवारी केस पुलिसकर्मियों की लामबंदी पर डीजीपी सख्त बोले कार्रवाई होगी

2018-10-05T18:37:53Z

सोशल मीडिया पर किये जा रहे पोस्ट्स पर रखी जा रही है नजर। आरोपी सिपाहियों की अरेस्टिंग के विरोध में पुलिसकर्मियों ने की है काला दिवस मनाने की घोषणा।

lucknow@inext.co.in
KANPUR : विवेक तिवारी हत्याकांड के आरोपित सिपाहियों की अरेस्टिंग के विरोध में पुलिसकर्मियों की लामबंदी पर पुलिस के आलाधिकारियों के कान खड़े हो गए हैं। 5 अक्टूबर को काला दिवस मनाए जाने की घोषणा पर गुरुवार को डीजीपी ओपी सिंह सख्त नजर आए। उन्होंने कहा कि कोई भी पुलिसकर्मी अगर गैरकानूनी काम करेगा तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जायेगी। हालांकि, उन्होंने पुलिस जवानों पर पूरा भरोसा जताया कि वे ऐसा कोई काम नहीं करेंगे, जिससे अनुशासन भंग हो।
सिपाही की हरकत को सभी ने बताया गलत
वूमेन पावर लाइन में गुरुवार को आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान मीडियाकर्मियों से मुखातिब हुए डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि 'हमारे अधिकारियों का जवानों से निरंतर संवाद बना हुआ है। सभी का कहना है विवेक तिवारी की जिस सिपाही ने हत्या की है, वह गलत है।' डीजीपी ने कहा कि हर जवान का मनोबल ऊंचा है और वे खुश हैं। कुछ पुलिसकर्मियों द्वारा सोशल मीडिया पर काला दिवस मनाए जाने को लेकर जब उनसे सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि जो भी पुलिसकर्मी गैरकानूनी काम करेगा, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। इसके लिये निर्देशित कर दिया गया है।
परिवार की तरह काम कर रही पुलिस
डीजीपी ने कहा कि उन्होंने खुद कई बार मातहतों से सीधा संवाद किया है। सभी अधिकारी व जवान एक दूसरे से लगातार संवाद करते हैं और वे सब आपस में घुले-मिले हैं। सभी पुलिसकर्मियों का पुलिस प्रणाली में पूरा विश्वास है्। इसी का नतीजा है कि वे कोई भी ऐसा काम नहीं करते जो कि कानूनन गलत हो। उन्होंने कहा कि आज हमारा पुलिस विभाग एक परिवार की तरह काम कर रहा है। सोशल मीडिया पर किये जा रहे पोस्ट्स पर डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि सोशल मीडिया पर जो बातें फैलाई जा रही हैं, वे सभी भ्रामक हैं। मंगलवार को वायरल हो रहे वाराणसी की एक फोटो जिसमें पुलिसकर्मियों ने बांहों में काली पट्टी बांध रखी है, का जिक्र करते हुए डीजीपी ने कहा कि उन्होंने इसकी जांच कराई तो पता चला कि यह फोटो दो साल पूर्व वेतन वृद्धि को लेकर किये गए विरोध का था। लेकिन, इसे वर्तमान का बताया जा रहा है। बाकी पोस्ट भी भ्रम फैलाने के लिये किये जा रहे हैं, जिन पर नजर रखी जा रही है।
भड़काऊ पोस्ट डालने वाला कॉन्सटेबल सस्पेंड
विवेक तिवारी हत्याकांड में आरोपित सिपाहियों की अरेस्टिंग से नाराज होकर फेसबुक पर भड़काऊ पोस्ट डालने वाले पीएसी के कॉन्सटेबल सर्वेश चौधरी को सस्पेंड कर दिया गया है। डीआईजी लॉ एंड ऑर्डर प्रवीण कुमार त्रिपाठी ने बताया कि इटावा स्थित 25वीं बटालियन, पीएसी में तैनात कॉन्सटेबल सर्वेश चौधरी ने बुधवार को फेसबुक पर बेहद आपत्तिजनक भाषा में एक पोस्ट डाला था। उसने इस पोस्ट के जरिए पुलिसकर्मियों को भड़काने की कोशिश की है। उन्होंने कहा कि पुलिस या पीएसी फोर्स अपने अनुशासन पर चलता है। यह बेहद गंभीर मामला है, इसलिए कॉन्सटेबल सर्वेश चौधरी को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड करने व विभागीय जांच के आदेश दिये गए हैं। उन्होंने बताया कि इस मामले में हजरतगंज कोतवाली में भड़काऊ पोस्ट डालने की एफआईआर दर्ज कराई जाएगी। इसके बाद गुरुवार रात एसएसआई हजरतगंज बृजेंद्र मिश्र की तहरीर पर अज्ञात के खिलाफ आईटी एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज कर मामले की जांच साइबर सेल को सौंप दी गई है।

कोलकाता की मार्केट तो दिल्ली की फैक्ट्री में लगी भीषण आग, दमकल की 60 गाड़ियां पहुंची मौके पर

धू-धू कर जला आंध्र का ये सिनेमा हाल, कोलकाता की मार्केट में 24 घंटे बाद भी नहीं बुझी आग

Posted By: Mukul Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.