धूल और ठंड का कॉम्बिनेशन बढ़ा रहा कफ

2018-12-31T06:00:14Z

-लगातार बढ़ रहे हैं मरीज, सीवियर सर्दी-जुकाम से पीडि़त हैं लोग

-ठंड के सीजन में डॉक्टर्स ने प्रिकॉशन लेने की दी सलाह

PRAYAGRAJ: सर्दी-जुकाम और कफ के बढ़ते मरीजों को देखकर इस बार डॉक्टर्स भी परेशान हैं। उनका कहना है कि अधिकतर मरीज सीवियर कंडीशन में ओपीडी पहुंच रहे हैं। इसके पीछे वह शहर में बढ़े हुए पॉल्यूशन लेवल को कारण मान रहे हैं। सड़कों पर उड़ रही धूल और ठंड का कॉम्बिनेशन लोगों को बीमार बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहा है।

जकड़ रहा सीना, बैठ रहा गला

शहर में चल रहा सड़कों का कंस्ट्रक्शन कार्य किसी से छिपा नहीं है। अभी भी कई सड़कें बुरी तरह खोदी पड़ी हैं। इसकी वजह से लगातार धूल उड़ रही है। ऐसे में ठंड का मौसम कफ की प्रॉब्लम बढ़ा रहा है। सीवियर कंडीशन होने पर गला बैठ रहा और सीने में जकड़न बढ़ रही है। खासकर बच्चों को अधिक दिक्कत हो रही है। धूल में मौजूद महीन कण सांस नली में एलर्जी और इंफेक्शन बढ़ा रहे हैं। यही कारण है कि मरीजों को ठीक होने में एक सप्ताह से अधिक समय लग रहा है।

इन एरियाज में हैं अधिक दिक्कत

शहर में धूल की सर्वाधिक समस्या पश्चिमी एरिया में है। राजरूपपुर, कालिंदीपुरम, चकिया, खुल्दाबाद, लूकरगंज, रेलवे स्टेशन, नवाब युसुफ रोड, अल्लापुर, स्टैनली रोड, सिविल लाइंस, बैरहना सहित दर्जनों इलाकों में रोड और गलियों के मरम्मत का काम पूरा नहीं होने से जबरदस्त पॉल्यूशन बढ़ा हुआ है। इन एरियाज में रहने और गुजरने वाले आसानी से बीमारी की चपेट में आ रहे हैं। सीने में घरघराहट और खांसी आम समस्या बनी हुई है।

लगातार गिर रहा है हवा का स्तर

पिछले कुछ महीनों से शहर का पॉल्यूशन लेवल काफी खराब स्थिति में चल रहा है। एयर क्वॉलिटी का लेवल लगातार तीन सौ के ऊपर बना हुआ है जो तीन गुना तक खराब माना जा सकता है। इसी तरह पीएम-10 का लेवल भी दो गुना से अधिक है। यही कारण है कि डॉक्टर्स लोगों को लगातार मास्क लगाकर बाहर निकलने की सलाह दे रहे हैं।

ऐसे होगा बचाव

-ठंडे पानी या कोल्ड ड्रिंक से दूरी बनाकर रखें।

-देर रात तक बाहर घूमने से बचें।

-पूरे बदन के कपड़े पहनें। गले और सीने को ढंककर रखें।

-कफ की दिक्कत होने पर गुनगुने पानी का सेवन करें।

-सांस लेने में दिक्कत हो रही है तो डॉक्टर की सलाह अवश्य लें।

-धूल वाली जगह से गुजरने से बचें। मास्क लगाकर घर से निकलें।

-बॉडी को ठंडे-गर्म एक्सपोजर से बचाकर रखें।

वर्जन

शहर में पहले से पॉल्यूशन लेवल बढ़ा हुआ है। ऐसे में ठंड अधिक पड़ने से लोगों को कफ और एलर्जी की शिकायत हो रही है। शुरुआत में नजरअंदाज करने से गले और सीने में सीवियर कंजेशन की शिकायत आ रही है। जिससे बचना जरूरी है।

-डॉ। आशुतोष गुप्ता, चेस्ट फिजीशियन


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.