UP: पीएम मोदी हाथरस सामूहिक दुष्कर्म मामले पर हुए सख्त, सीएम योगी ने एसआईटी गठित कर 7 दिनों में मांगी जांच रिपोर्ट

Updated Date: Wed, 30 Sep 2020 12:22 PM (IST)

उत्तर प्रदेश के हाथरस में हुए सामूहिक दुष्कर्म मामले में पीएम मोदी ने कहा कि दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाए। वहीं इस केस की जांच के लिए तीन सदस्यीय एसआईटी का गठन किया गया है। इस बात की जानकारी सीएम योगी ने दी है। यहां पढ़ें पूरा मामला...

लखनऊ (पीटीआई)। उत्तर प्रदेश के हाथरस में सामूहिक दुष्कर्म मामले को लेकर लोगों को आक्रोश व्याप्त है। पीड़िता का अंतिम संस्कार बुधवार की तड़के उसके पैतृक स्थान पर किया गया। वहीं इस मामले में बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने कहा कि इस मामले को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र माेदी से बातचीत हुई है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाए।

Prime Minister Narendra Modi spoke to me over #Hathras incident, he said that strictest of action be taken against the culprits: UP CM Yogi Adityanath pic.twitter.com/bqMQpCqOEO

— ANI UP (@ANINewsUP) September 30, 2020


तीन सदस्यीय एसआईटी का गठन किया गया
उत्तर प्रदेश के सीएम योगी ने यह भी कहा कि मामले की जांच के लिए तीन सदस्यीय एसआईटी का गठन किया गया है। यह टीम अगले 7 दिनों के भीतर जांच रिपोर्ट सौंपेगी। इतना ही नहीं मामले में तुरंत न्याय सुनिश्चित करने के लिए, इस मामले को फास्ट-ट्रैक अदालत में पेश करने की कोशिश की जाएगी। सचिव गृह, भगवान स्वरूप, एसआईटी का नेतृत्व करेंगे और डीआईजी, चंद्रप्रकाश, और कमांडेंट पीएसी आगरा, पूनम इसके सदस्य होंगे।

Culprits of #Hathras gangrape incident will not be spared. An SIT has been formed to investigate the incident, the team will submit a report within next 7 days. To ensure swift justice, this case will be tried in a fast-track court: Uttar Pradesh CM Yogi Adityanath (File photo) pic.twitter.com/Lr9G9oIQaV

— ANI UP (@ANINewsUP) September 30, 2020
19 साल की युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म
बता दें कि हाथरस में 14 सितंबर को 19 साल की युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया था। पीड़िता को अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कालेज और अस्पताल में भर्ती कराया गया था। हालांकि यहां पर उपचार के बाद भी उसकी हालत में सुधार के कोई संकेत नहीं मिलने के बाद सोमवार को अलीगढ़ से दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल भेज दिया गया था। यहां मंगलवार की सुबह में पीड़िता ने दम तोड़ दिया था।

Posted By: Shweta Mishra
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.