Ind Vs Wi आखिरी बार भारत ने 15 ओवर में कब जीता था वनडे मैच पता है आपको

2018-11-02T09:27:23Z

वेस्टइंडीज के खिलाफ तिरुवनंतपुरम में खेला गया पांचवां वनडे भारत ने 9 विकेट से जीत लिया। भारत ने यह मैच 15वें ओवर में ही जीता। इसी के साथ सीरीज भी 31 से भारत के नाम रही।

नई दिल्ली (जेएनएन)। भारत और वेस्टइंडीज़ के बीच वनडे सीरीज़ का पांचवां और आखिरी मैच तिरुवनंतपुरम में खेला गया। इस मैच में भारत ने वेस्टइंडीज को 9 विकेट से हराकर पांच वनडे मैचों की सीरीज को 3-1 से अपने नाम किया। भारत को जीत के लिए इस मैच में 105 रन का आसान लक्ष्य मिला था जिसे टीम इंडिया ने रोहित शर्मा के नाबाद 63 रन और कप्तान विराट की नाबाद 33 रन की पारी के दम पर जीत ली। भारत ने 14.5 ओवर में एक विकेट पर 105 रन बनाए। इस जीत के साथ ही भारतीय वनडे टीम ने लगातार छठी सीरीज जीती। इससे पहले इस मैच में वेस्टइंडीज़ के कप्तान ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी करने का फैसला किया था। वेस्टइंडीज़ की टीम पहले बल्लेबाज़ी करते हुए भारतीय गेंदबाजों के सामने धराशाई हो गई और 31.5 ओवर में 104 रन पर ऑल आउट हो गई। भारत को इस मुकाबले में जीत के लिए 105 रन का आसान लक्ष्य मिला था।
रोहित की नाबाद अर्धशतकीय पारी

दूसरी पारी में भारतीय टीम को पहला झटका जल्दी ही लग गया। टीम के ओपनर बल्लेबाज शिखर धवन आखिरी वनडे में भी रन बनाने में नाकाम रहे और वो सिर्फ छह रन पर ही आउट हो गए। उन्हें थॉमस ने क्लीन बोल्ड कर दिया। रोहित शर्मा इस मैच में 63 रन बनाकर नाबाद रहे जबकि विराट कोहली 33 रन बनाकर नाबाद पवेलियन लौटे। वेस्टइंडीज की तरफ से थॉमस को एकमात्र सफलता मिली।
भारतीय गेंदबाजों ने की कसी हुई गेंदबाजी
इस मैच के पहले ही ओवर में भुवनेश्वर कुमार ने भारत को पहली सफलता दिला दी। उन्होंने विंडीज़ के ओपनर कायरन पावेल को खाता तक खोलने का मौका नहीं दिय़ा और धौनी के हाथों कैच आउट करवा दिया। इसके अगले ही ओवर में बुमराह ने शाई होप को शून्य पर बोल्ड कर भारत को दूसरी सफलता दिला दी। मार्लोन सैमु्ल्स ने रन कुछ बड़े शॉट्स जरुर लगाए, लेकिन उनकी ये पारी भी ज़्यादा लंबी नहीं चल सकी। जडेजा ने सैमुअल्स को कोहली के हाथों कैच आउट करवा दिया। सैमुअल्स ने 24 रन बनाए। इसके बाद जडेजा ने हेटमायर को भी एलबीडब्ल्यू आउट कर भारत को चौथी सफलता दिला दी। हेटमायर 09 रन बनाकर पवेलियन लौटे। हेटमायर गए तो ओपनिंग करने आए रोवमन पावेल ने खलील की गेंद पर बड़ा शॉट खेलने की कोशिश की, लेकिन गेंद सीधी गई शिखर धवन के हाथों में और 57 रन पर ही वेस्टइंडीज़ की आधी टीम पवेलियन लौट गई।  अभी कुल स्कोर में 09 ही रन जुड़े थे कि फाबियान एलेन 04 रन बनाकर बुमराह की गेंद पर केदार जाधव को कैच दे बैठे।
जेसन होल्डर के जाते ही टूटी विंडीज टीम की आस
87 रन के स्कोर पर वेस्टइंडीज़ के कप्तान जेसन होल्डर का हौसला भी जवाब दे गया और वो खलील अहमद की गेंद पर केदार जाधव को कैच दे बैठे। होल्डर 25 रन बनाकर आउट हुए। कीमो पॉल 05 रन बनाकर कुलदीप यादव की गेंद पर हवाई शॉट खेल बैठे और अंबाती रायुडू ने गेंद को कैच करने में कोई गलती नहीं की। केमार रोच को जडेजा ने अपनी गेंद पर सिर्फ पांच रन के स्कोर पर केदार जाधव के हाथों कैच आउट करवा दिया। इंडीज का आखिरी विकेट थॉमस के तौर पर गिरा। वो बिना खाता खोले जडेजा की गेंद पर एलबीडब्ल्यू आउट हुए। भारत की तरफ से सबसे ज्यादा विकेट जडेजा ने लिए और उन्होंने चार बल्लेबाजों को पवेलियन का रास्ता दिखाया। बुमराह और खलील अहमद को दो-दो सफलता मिली जबकि भुवी और कुलदीप यादव ने एक-एक विकेट लिए।
इस मैच के लिए भारतीय टीम
रोहित शर्मा, शिखर धवन, विराट कोहली, अंबाती रायुडू, केदार जाधव, एम एस धौनी, रवींद्र जडेजा, भुवनेश्वर कुमार, कुलदीप यादव, खलील अहमद और जसप्रीत बुमराह।
भारत के लिए सबसे बड़ी जीत (गेंदें शेष रहते)
231 विरुद्ध केन्या, ब्लोमफोंटेन, 2001
211 विरुद्ध वेस्टइंडीज, तिरुवनंतपुरम, 2018
187 विरुद्ध यूएई, पर्थ, 2015
181 विरुद्ध ईस्ट अफ्रीका, लीड्स, 1975
177 विरुद्ध साउथ अफ्रीका, सेंचुरियन, 2018
रोहित ने वनडे में ऐसा कौन सा रिकॉर्ड बना दिया कि, उसके आसपास भी नहीं सचिन और कोहली
टीम इंडिया में एक कोहली कम था जो दूसरा आ गया, जमकर बना रहा रन



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.