इजराइली सैनिक ने फिलिस्तीनी पत्थरबाज को गोलियों से भूना

2018-06-06T19:28:24Z

इजराइली सैनिकों ने बुधवार को वेस्ट बैंक में गिरफ्तार किये गए 21 वर्षीय फिलिस्तीनी पत्थरबाज को गोलियों से भून डाला। इस बात की जानकारी फिलिस्तीनी स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी।

सैनिकों ने गांव में घुसते ही पत्थरबाजों को निशाना बनाया
यरुशलम (एपी)।
इजराइली सेना और फिलिस्तीनी स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि बुधवार को इजराइली सैनिकों ने वेस्ट बैंक में रेड के दौरान एक 21 वर्षीय फिलिस्तीनी पत्थरबाज को गिरफ्तार किया और उसे गोलियों से भून डाला। मरने वाले की पहचान इज्जिदीन तमीमी के रूप में हुई है। फिलिस्तीनी स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि तमीमी को रामल्लाह के पास नबी सालेह गांव में इज़राइली सेना के साथ हुए मुठभेड़ के दौरान गोली मारी गई। मरने वाले के चाचा बस्सीम तमीमी ने बताया कि इजराइली सैनिकों ने गांव में घुसते ही पत्थरबाजों को निशाना बनाना शुरू कर दिया और हमले में उन्होंने कई गोलियों और आंसू गैस का इस्तेमाल किया।

सैनिक के सिर पर पत्थर से हमला किया

इजराइली सेना ने बताया कि दर्जनों फिलिस्तीनी पत्थरबाजों ने एक साथ सैनिकों पर हमला किया। शुरुआत में उन्होंने दंगाइओं पर नियंत्रण पाने के सभी सामन्य तरीकों को अपनाया। लेकिन फिर भी वो नाकाम रहे, तभी उसमें से एक फिलिस्तीनी ने एक सैनिक के सिर पर पत्थर से हमला कर दिया, जिसके बाद जवाबी कार्रवाई में सैनिक ने उसपर गोली चला दी। इससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई। बता दें कि इस घटना से कुछ ही दिन पहले सिर पर चोट लगने के चलते एक इजराइली सैनिक की मौत हो गई थी।  
इजराइल का कई देशों से है विवाद
गौरतलब है कि 2015 के बाद से अब तक, फिलिस्तीनियों ने 50 से अधिक इजराइलियों की हत्या की है, जबकि इजराइली सेना ने उस अवधि में 260 से अधिक फिलिस्तीनियों को मारा है। दरअसल, इजराइल की सीमा लेबनान, सीरिया, जॉर्डन, फिलिस्तीन के अलावा मिस्र से लगती है। इजराइल का लगभग इन सभी देशों से विवाद है। लेकिन फिलिस्तीन से उसकी दुश्मनी जगजाहिर है, जिसके चलते अक्सर इनके बीच जंग के हालात बने रहते हैं। इसकी वजह दोनों के बीच सीमा विवाद रहा है, जो कि इजराइल उदय होने के साथ से ही है।

ये है फिलिस्तीन और इजराइल का विवाद
30 नवंबर, 1947 में यहूदियों और अरबों विवाद का मुद्दा बने इलाके के बंटवारे को लेकर संयुक्त राष्ट्र ने अपनी सहमति दी थी। इसके बाद ही इजराइल अस्तित्व में आया था। लेकिन ऐसे कुछ देश जो इस बंटवारे से खफा थे उन्होंने इजराइल पर युद्ध थोप दिया किंतु हार गए। इसका नतीजा यह हुआ कि इजराइल ने गाजा पट्टी पर भी कब्जा कर लिया था। यही गाजा पट्टी इजराइल और फिलिस्तीन के बीच दुश्मनी का कारण बनी हुई है। इस विवाद के चलते ही इजराइल ने अपने बॉर्डर पर दीवार बनाई है।

ग्वाटेमाला : ज्वालामुखी विस्फोट से मरने वालों की संख्या बढ़कर 69 हुई

ग्वाटेमाला में ज्वालामुखी विस्फोट, 25 लोगों की मौत


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.