धोनी से जुड़ी ये बात हमेशा याद रखेंगे केएल राहुल, 6 साल पहले का है किस्सा

Updated Date: Mon, 11 May 2020 07:43 AM (IST)

टीम इंडिया के विकेटकीपर बल्लेबाज केएल राहुल ने धोनी से जुड़ी एक बात शेयर की जिसे वह कभी नहीं भूलेंगे। राहुल के मुताबिक ये मामला छह साल पुराना है जब उन्होंने पहली बार टेस्ट खेला था।

नई दिल्ली (एएनआई)। भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज केएल राहुल टीम इंडिया के मुख्य खिलाड़ी बन चुके हैं। हालांकि उनका आम से खास प्लेयर बनने का रास्ता काफी लंबा रहा। राहुल को क्रिकेट के सबसे लंबे फॉर्मेट में डेब्यू किए छह साल हो गए। 2014 में एमएस धोनी की कप्तानी में उन्होंने पहली बार टेस्ट क्रिकेट में कदम रखा। अपने डेब्यू मैच में धोनी से मिली टेस्ट कैप को राहुल जिंदगी भर याद रखेंगे। इस बात का जिक्र उन्होंने सोशल मीडिया पर किया।

धोनी द्वारा टेस्ट कैप मिलना है यादगार

रविवार को ट्विटर पर एक फैन ने राहुल से पूछा कि, धोनी द्वारा उनको टेस्ट कैप मिलने के बाद उन्हें कैसा लगा। इस पर राहुल कहते हैं, "यह मेरे लिए एक विशेष और भावनात्मक क्षण था। मैंने कभी नहीं सोचा था कि मुझे श्रृंखला में खेलने का मौका मिलेगा और एमएस धोनी से वह टोपी हासिल करना एक विशेष अहसास था।" बता दें साल 2014 में धोनी की कप्तानी में राहुल ने अपना पहला टेस्ट ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड (एमसीजी) में खेला था। राहुल बल्ले से प्रभावित करने में नाकाम रहे और मैच की दोनों पारियों में सिर्फ चार रन (3,1) बनाए। हालांकि, भारत ने बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी सीरीज में 2-0 से पिछडऩे के बाद जबरदस्त वापसी की थी। अगले मैच में, राहुल ने मुरली विजय के साथ ओपनिंग की और अपने दूसरे गेम में अपना पहला शतक बनाया। उन्होंने पहली पारी में 110 रनों की इनिंग खेली जबकि उन्होंने दूसरी पारी में सिर्फ 16 रन बनाए। मेहमान टीम अंत में मैच ड्रॉ कराने में सफल रही, लेकिन भारत अंतत: चार मैचों की श्रृंखला 2-0 से हार गया।

It was a special and emotional moment for me. I never thought I would get a chance to play in the series and it was a special feeling to get that cap from MS Dhoni https://t.co/5yirGYh7Q9

— K L Rahul (@klrahul11) May 10, 2020ऐसा है राहुल का इंटरनेशनल रिकॉर्ड

28 वर्षीय केएल राहुल ने भारत के लिए 36 टेस्ट खेले और 2,006 रन बनाए जिसमें पांच शतक और 11 अर्द्धशतक शामिल हैं। वहीं 32 एकदिवसीय मैचों में, उन्होंने 47.65 की औसत के साथ 1,239 रन बनाए। टी-20 में राहुल ने 42 मैच खेले और दो शतक और 11 अर्धशतकों के साथ 1461 रन बनाए।वह ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के खिलाफ सीमित ओवरों की श्रृंखला में बल्ले से शानदार प्रदर्शन कर रहे थे। उन्होंने वनडे और टी 20 में संयुक्त रूप से अपनी पिछली दस पारियों में एक शतक और चार पचासे बनाए।

बुमराह को बताया, खतरनाक गेंदबाज

इस बीच केएल राहुल ने टीम इंडिया के सबसे खतरनाक गेंदबाज के बारे में भी बताया। राहुल का कहना है कि, वह विकेटकीपिंग को खूब इंज्वॉय कर रहे। मगर जसप्रीत बुमराह के खिलाफ विकेटकीपिंग करना मुश्किल होता है। राहुल ने यह भी कहा कि रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के साथ 2016 का आईपीएल उनके लिए "कैरियर-डिफाइनिंग सीजन" था। राहुल ने अपने पसंदीदा आईपीएल पल के बारे में पूछे जाने पर कहा, "यह आरसीबी के साथ 2016 का सीजन है, जो मेरे लिए करियर-डिफाइनिंग सीजन था, क्योंकि लोगों ने मुझमें सफेद गेंद की क्षमता देखी।" आरसीबी में क्रिस गेल के साथ ड्रेसिंग रूम साझा कर चुके राहुल ने वेस्टइंडीज के इस धाकड़ बल्लेबाज को स्मार्ट क्रिकेटर बताया।

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.