निरस्त हो सकता है लोअर सबऑर्डिनेट एग्जाम, यहां लीक हुआ था पेपर

Updated Date: Mon, 17 Sep 2018 02:30 PM (IST)

अधीनस्थ सेवा चयन आयोग द्वारा विगत 15 जुलाई को आयोजित लोअर सबऑर्डिनेट परीक्षा का पेपर लीक होने के मामले की जांच एसटीएफ को सौंप दी गयी है।

lucknow@inext.co.in
LUCKNOW: सूत्रों की मानें तो एसटीएफ की सिफारिश पर परीक्षा निरस्त भी हो सकती है। इसके लिए एसटीएफ ने गहनता से पड़ताल शुरू कर दी है। उसकी रिपोर्ट के आधार पर ही पेपर निरस्त करने का फैसला होगा। उल्लेखनीय है कि 641 पदों के लिए कराई गई इस परीक्षा का पेपर सोशल मीडिया पर लीक हो गया था। परीक्षा के अगले दिन कई अभ्यर्थियों ने इसकी शिकायत की थी। जिसके बाद आयोग ने एसटीएफ  को जांच सौंपी है।

वाट्सएप ग्रुप में यह पेपर वायरल हुआ

एसटीएफ के मुताबिक एनसीआर निवासी विशाल सिंह ने आरोप लगाया है कि परीक्षा से एक दिन पहले रात में ही दिल्ली और एनसीआर के कुछ वाट्सएप ग्रुप में यह पेपर वायरल हुआ था। अगले दिन उन्हें व अन्य अभ्यर्थियों को ठीक वैसा ही पेपर भी मिला। ध्यान रहे कि इस मामले में एसटीएफ ने 51 लोगों को संदेह के आधार पर गिरफ्तार भी किया था। हालांकि आयोग के अधिकारी पेपर लीक से इंकार कर रहे थे। उल्लेखनीय है कि इस परीक्षा में करीब 67 हजार अभ्यर्थियों ने हिस्सा लिया था। एसएसपी एसटीएफ अभिषेक सिंह ने जांच शुरू होने की पुष्टि की है।

UPPCL Exam : जेल भेजे गए सॉल्वर, गैंग की तलाश

7 फरवरी से शुरू होंगे यूपी बोर्ड एग्जाम, 16 दिन में होंगे समाप्त

Posted By: Shweta Mishra
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.