महाराष्ट्र में पल-पल बदल रहा माहाैल, संजय राउत ने हाॅस्पिटल से ट्वीट किया हम होंगे कामयाब

महाराष्ट्र में कब और किसकी सरकार बनेगी इसके लिए अभी कुछ नहीं कहा सकता है। यहां भाजपा शिवसेना कांग्रेस और एनसीपी सभी अपने-अपने पैतरे आजमा रही है। इस सबके बीच शिवसेना नेता संजय राउत ने ट्वीट किया कि हम होंगे कामयाब...

Updated Date: Tue, 12 Nov 2019 12:56 PM (IST)

मुंबई (महाराष्ट्र) (एएनआई)। महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर पलपल माहाैल बदल रहा है और अभी भी यहां पर स्थितियां साफ नहीं हो पा रही हैं। यहां बीते कई दिनों से उठापटक जारी है। यहां सरकार बनाने को लेकर शिवसेना ने सोमवार को दावा पेश करने के लिए 48 घंटे का समय और मांगा था। हालांकि इसके लिए राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी तैयार नहीं हुए और उन्होंने इनकार कर दिया है।

"लहरों से डर कर नौका पार नहीं होती,
कोशीश करने वालों की कभी हार नही होती ।'
बच्चन.
हम होंगे कामयाब..
जरूर होंगे...

— Sanjay Raut (@rautsanjay61) November 12, 2019


हरिवंश राय बच्चन की कविता लिखी

इस पर शिवसेना नेता संजय राउत ने आज ट्विटर पर कवि हरिवंश राय बच्चन की कविता लिखी और कहा कि उनकी पार्टी ने हार नहीं मानी है और सफल होगी। संजय ने ट्वीट किया कि लहरों से डर कर नौका पार नहीं होती, कोशीश करने वालों की कभी हार नही होती। हम होंगे कामयाब..जरूर होंगे। शिवसेना नेता को सीने में दर्द की शिकायत के बाद वर्तमान में लीलावती अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

Mumbai: BJP leader Ashish Shelar met Shiv Sena leader Sanjay Raut at Lilawati hospital today. Raut was admitted to hospital yesterday after he complained of chest pain. pic.twitter.com/H8wJSJLc6l

— ANI (@ANI) November 12, 2019


शिवसेना ने और समय की मांग की थी

महाराष्ट्र में शिवसेना मुख्यमंत्री पद को लेकर भाजपा से नाता तोड़ने के बाद अब सरकार बनाने को लेकर एनसीपी के साथ बातचीत कर रही है। इसके लिए शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने सोमवार को एनसीपी प्रमुख शरद पवार के साथ बैठक की। हालांकि, शिवसेना सोमवार को दावा नहीं कर पाई क्योंकि उनके पास 145 विधायकों का समर्थन नहीं है। इसके लिए उसने राज्यपाल से और समय मांगा था।

एनसीपी यहां तीसरी सबसे बड़ी पार्टी

इसके बाद राज्यपाल भगत सिंह कोशियारी ने एनसीपी से पूछा, जो सरकार बनाने की इच्छा व्यक्त करने वाली तीसरी सबसे बड़ी पार्टी है। एनसीपी और कांग्रेस दोनों ने इस घटनाक्रम को लेकर बैठकें कीं क्योंकि शिवसेना ने गैर-भाजपा सरकार बनाने की इच्छा व्यक्त की। हालांकि इस पर एनसीपी ने स्पष्ट कर दिया कि वह सहयोगी पार्टी कांग्रेस के रुख के बिना इस पर कोई फैसला नहीं करेगी।

कांग्रेस 44 तो एनसीपी 54 सीटों पर

भाजपा जो 105 सीटों के साथ महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी थी लेकिन अभी सरकार बनाने के लिए तैयार नही है। उसने सत्ता साझा करने के लिए शिवसेना के साथ मतभेदों के बाद सरकार बनाने से इनकार कर दिया। 288 सदस्यीय महाराष्ट्र विधानसभा में बहुमत का निशान 145 है। यहां शिवसेना 56 सीटों पर, कांग्रेस 44 और एनसीपी 54 सीटों पर जीती है।

 

 

 

Posted By: Shweta Mishra
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.