मुंबई में 'स्पेशल 26' जैसा वाक्या आयकर रेड डाली और लूट ले गए 81 लाख रुपये

2019-06-13T17:02:47Z

मुंबई में 'स्पेशल 26' मूवी जैसा वाक्या फिर से दोहराया गया है। दरअसल फर्जी इनकम टैक्स अधिकारी बनकर कुछ लोगों ने एक घर में रेड डाली और करीब 81 लाख रुपये लूट ले गए।

मुंबई (मिड-डे)। अक्षय कुमार की फिल्म 'स्पेशल 26' की तरह मुंबई में फर्जी इनकम टैक्स अधिकारी बनकर कुछ लोगों ने गंगोत्री अपार्टमेंट में एक रियल एस्टेट एजेंट के घर पर रेड डाली और कीमती सामान के साथ 81.4 लाख रुपये लूट ले गए। दहिसर पुलिस ने इस मामले में दो महिलाओं सहित 13 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि घर पर रखे दस्तावेजों को स्कैन करने के बाद गिरोह के सदस्यों ने 80.4 लाख रुपये नकद के साथ-साथ चार मोबाइल फोन भी बरामद किए, जिनकी कीमत 1.2 लाख है। इस घटना के बाद वृंदावन क्षेत्र में गंगोत्री अपार्टमेंट के बी-विंग में रहने वाले 59 वर्षीय किसन दगडू बेलवते ने दहिसर पुलिस स्टेशन में अज्ञात लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई। किसन ने अपनी शिकायत में पुलिस को बताया कि फर्जी आईटी अधिकारियों ने घर में तलाशी से पहले सभी का फोन जब्त कर लिया, ताकि वह किसी को इसके बारे में खबर नहीं दे पाएं।

असली अधिकारी जैसा कर रहे थे बर्ताव
अपनी शिकायत में किसन ने लिखा, 'सभी ने घर में अलमारी और लॉकरों की तलाशी ली और परिवार के हर एक सदस्यों के बयान लेने से पहले उन्होंने जब्त किये गए गहने और नकद पैसे को एक मेज पर रख दिए। रेड के दौरान उन्होंने बिलकुल असली आईटी अधिकारियों की तरह ही प्रोफेशनल व्यवहार किया। उन्होंने हमारे बयान को सफेद कोरे कागज में लिखा और हमें जब्त किये गए सामानों की अधिक जानकारी देने के लिए इनकम टैक्स ऑफिस आने के लिए कहा। इसके बाद वे सभी कीमती सामान, नकदी और सेलफोन के साथ घर से निकल गए।'

आगरा में उप्र बार काउंसिल अध्यक्ष की गोली मारकर हत्या
सीसीटीवी से मिली आरोपियों की तस्वीर

मामला दर्ज होने के बाद पुलिस ने बिल्डिंग के सीसीटीवी फुटेज हासिल किये, जिसमें आरोपियों की तस्वीर साफ नजर आ रही थी। इसके बाद उनका पता लगाने के लिए एक टीम भी बनाई। डीसीपी विजय कुमार राठोड़ ने बताया कि आरोपियों की पहचान समीर केतकर (38), शैलेश पवार (36), कुंदन गावड़े (41), अजय उर्फ ​​आनंद जाधव (40), नरेंद्र मर्चेंडे (40), संतोष उर्फ ​​पप्पू दूबे (42), राजेश निषाद (27), अल्ताफ कागदी अलस समीर (32), एंथनी वडकेल (39), बबीता चवन (25) और कुंडुनी बाड़े (43) के रूप में हुई है। पूछताछ के दौरान यह पता चला कि अजय उर्फ ​​आनंद जाधव ने दुबे को बेलवेट की संपत्ति के बारे में बताया था, जिन्होंने अल्ताफ कागदी और अन्य सहयोगियों के साथ मिलकर इस अपराध की योजना बनाई और अंजाम दिया।


Posted By: Mukul Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.