Navratri 2020: Maa Durga के ये अचूक मंत्र, जो आपको बनाएंगे स्‍वस्‍थ और संपन्‍न

Happy Navratri 2020 : शारदीय नवरात्रि का पर्व Maa Durga को प्रसन्‍न करने का पर्व है इस दौरान मां को श्रद्धा भाव से जो भी अर्पित किया जाए वो स्‍वीकार होता है। तो नवदुर्गा का आशीर्वाद प्राप्‍त करने के लिए पुराणों में बताए गए कुछ मंत्र यहां दिए हैं जिनके जप से मां प्रसन्‍न होती हैं और आपको मनचाहा फल प्रदान करती हैं।

Updated Date: Mon, 19 Oct 2020 06:29 PM (IST)

कानपुर। Navratri 2020 के दौरान नवदुर्गा यानि Maa Durga के सभी रूपों शैलपुत्री, ब्रह्मचारिणी, चन्द्रघंटा, कूष्माण्डा, स्कंदमाता, कात्यायनी, कालरात्रि, महागौरी और सिद्धिदात्री को प्रसन्‍न करने करने और उनका आशीर्वाद पाने के लिए यूं तो हर कोई पूजन और जतन करता है। आपके उसी पूजन को और भी शक्तिशाली बनाते हैं कुछ ऐसे मंत्र जो श्रीमार्कण्डेय पुराण में लिखे गए हैं। इन कुछ खास मंत्रों को पढ़ने, जाप करने और सुनने से माता दुर्गा की कृपा आप पर जरूर बरसती है। पढ़ें ये कुछ खास मंत्र Maa Durga Mantra जो अलग अलग मनोकामना पूर्ति हेतु पुराणों में बताए गए हैं...

आरोग्य और सौभाग्य की प्राप्ति के लिए Durga Mantra for health and prosperity

देहि सौभाग्यमारोग्यं देहि मे परमं सुखम् ।

रूपं देहि जयं देहि यशो देहि द्विषो जहि ॥

दुख और दरिद्रता के नाश के लिए

दुर्गे स्मृता हरसि भीतिमशेषजन्तो

स्वस्थैः स्मृता मतिमतीव शुभां ददासि।

दारिद्रयदुःखभयहारिणि का त्वदन्या

सर्वोपकारकरणाय सदाअर्द्रचित्ता॥

मनचाही पत्नी या पति की प्राप्ति के लिए

पत्नी मनोरमां देहि मनोवृत्तानुसारिणीम्।

तारिणीं दुर्गसंसारसागरस्य कुलोद्भवाम्॥

Navratri 2020 Wishes, Images, Status: नवरात्रि की पावन शुभकामनाएं सभी अपनों को भेजें और बांटें माता का आशीर्वाद

अब माँ दुर्गा की कृपा से होगा कोरोना का नाश, जानें यह खास मंत्र

सब प्रकार के कल्याण के लिए

सर्वमङ्गलमाङ्गल्ये शिवे सर्वार्थसाधिके।

शरण्ये त्र्यम्बके गौरि नारायणि नमोऽस्तु ते॥

बिना बाधा के धन व पुत्र की प्राप्ति के लिए

सर्वाबाधाविनिर्मुक्तो धनधान्यसुतान्वितः।

मनुष्यो मत्प्रसादेन भविष्यति न संशयः॥

Navratri 2020 Durga Aarti: नवरात्र में माता के हर रूप को अलग-अलग आरती से करें प्रसन्‍न

रोग-नाश के लिए दुर्गा मंत्र Durga Mantra for Good health

ॐ रोगानशेषानपहंसि तुष्टा

रुष्टा कामान् सकलानभीष्टान्।

त्वामाश्रितानां विपन्नराणां

त्वामाश्रिता ह्याश्रयतां प्रयान्ति॥

महामारी नाश के लिए दुर्गा मंत्र

ॐ जयंती मंगला काली भद्रकाली कपालिनी।

दुर्गा क्षमा शिवा धात्री स्वाहा स्वधा नमोऽस्तुते।।

Posted By: Chandramohan Mishra
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.