बग्घी पर शाही शादी

2011-12-04T20:56:25Z

हर कोई चाहता है कि उसकी शादी ऐसी हो कि लोग हमेशा याद रखें अब पटना में शाही शादी शुरू हो गई है बग्घी पर सवार दूल्हे यार की शाही शादी

अब पटना में बदला trend, 'शाही अंदाज' में हो रही शादी

बहुत दिन नहीं हुए. एक शादी की चर्चा सबकी जुबान पर थी. हर किसी ने उस शाही शादी को देखा था. दरअसल, वह शादी लंदन की महारानी के घर में हो रही थी. महारानी एलिजाबेथ के पोते प्रिंस विलियम और कैथरीन या केट की शादी के गवाह बने थे दुनिया के लाखों लोग. इस शादी में उस वक्त लंदन में मौजूद इंजीनियर सौरव शामिल हुए. इस शादी को देखकर सौरव के दिल में भी कुछ ऐसी ही शादी करने की ख्वाहिश जग गई. बेटे के इस शौक को सौरव के पिता ने लड़की के पिता से कहा, जिसकी सहमति भी मिल गई.

शाही अंदाज में निकली बारात
सौरव का वह सपना 3 दिसंबर को उस वक्त पूरा हो गया, जब उसे लेने शाही सवारी बग्घी उसके दरवाजे पर आ गई. सिर पर पगड़ी और शेरवानी पहने सौरव अपनी दुल्हन से मिलने चले, तो हर कोई उस बारात की एक झलक पाने को बेताब हो गया. हो भी क्यों नहीं. आखिर पटना में बग्घी पर होने वाली यह पहली शादी जो थी. सौरव ने पटना में एक नए टे्रंड की शुरुआत भी कर दी. उल्लेखनीय है कि पयर्टन विभाग द्वारा कुछ दिन पहले ही कई बग्घी खरीदी गयी थी. इस लगन में विभाग इसे नए रूप में यूज कर रहा है. सौरव की शादी सुभाष चंद्र श्रीवास्तव की बेटी अंशु किरण के साथ हुई.

अब गुंजा-अमित का शाही मिलन
इस शाही बघ्घी पर दूसरी शाही शादी 28 जनवरी 2012 को होगी. इस शाही मिलन में दूल्हा अमित हैं, तो दुल्हन गुंजा. यह बारात कुम्हरार से संबलपुर, विष्णु मंदिर फतुहा जाएगी. अमित के पिता तरुण कुमार सिन्हा ने बताया कि बेटे की इच्छा थी कि शादी में कुछ नया हो. कुछ दिन पहले ही पटना में बग्घी की सवारी शुरू हुई थी. मैंने तभी डिसाइड किया था कि बेटे की शादी शाही अंदाज में करेंगे. तरुण सिन्हा ने बताया कि जब शादी ठीक हुई, तो लड़की वालों के पास मैंने यह प्रस्ताव रखा, जिसे उनलोगों ने भी तुरंत मान लिया. इस तरह से पटना में अब शादी का अंदाज बदल रहा है.

आपको चाहिए क्या?
अगर आप भी बग्घी में बैठकर शाही शादी करना चाहते हैं, तो देर मत कीजिए. जल्दी से बुकिंग कर लीजिए. इसके लिए पर्यटन विभाग के फोन नंबर 0612-2225411 पर कॉल कीजिए और बुकिंग करा लीजिए. मैनेजर राजेश आपको फोन पर सारी इंफॉर्मेशन दे देंगे. आपसे शादी का डेट और टाइमिंग पूछा जाएगा. अगर उस दिन बग्घी फ्री होगी, तो उसी समय आपके नाम बुक भी कर दी जाएगी. इस संबंध में पयर्टन विभाग के डिप्टी जेनरल मैनेजर नवीन कुमार बताते हैं कि चूंकि बग्घी काफी बड़ी है इसलिए पतली सड़क या गली में नहीं जा सकती. उन्होंने बताया कि इस कारण अभी हम सिर्फ पटना और पटना सिटी एरिया में ही इसकी बुकिंग कर रहे हैं. दानापुर या खगौल आदि इलाके के लिए इसकी बुकिंग नहीं हो सकती है. उन्होंने बताया कि बग्घी का किराया 4 घंटे के लिए 16 हजार और 6 घंटे के लिए 20 हजार रुपए रखा गया है.


Posted By: Inextlive

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.