बैंकॉक एयरपोर्ट पर रोकी गई सऊदी अरब से भागी लड़की वापस भेजे जाने पर कहा जान से मार देंगे घरवाले

2019-01-07T13:34:10Z

सऊदी अरब से भागी 18 साल की एक लड़की को बैंकॉक एयरपोर्ट पर रोक लिया गया था। जब अधिकारी उसे वापस सऊदी अरब भेज रहे थे तो उसने कहा कि अगर वो वापस गई तो उसके घरवाले जान से मार देंगे।

बैंकॉक/थाई (रॉयटर्स)।सऊदी अरब से भागी एक 18 साल की लड़की राहफ मोहम्मद अल-क्यूनून को बैंकॉक एयरपोर्ट पर रोक लिया गया था। जब सोमवार को आव्रजन अधिकारियों ने उसे कुवैत की फ्लाइट में बैठाकर वापस भेजने की कोशिश की तो उसने जाने से इनकार कर दिया। उसने अधिकारियों से कहा कि अगर वो सऊदी अरब वापस गई तो उसके परिवारवाले उसे जान से मार देंगे। बता दें कि राहफ शनिवार से बैंकॉक हवाई अड्डे पर है, उसे थाई आव्रजन अधिकारियों ने अपने देश में प्रवेश से इनकार कर दिया था। लड़की का आरोप था कि सऊदी सरकार के कहने पर अधिकारियों ने उसे हिरासत में लिया है। इस पर सऊदी विदेश मंत्रालय ने उसके आरोपों का खंडन करते हुए कि लड़की को हवाई अड्डे पर इसलिए रोका गया क्योंकि उसने थाई आव्रजन कानूनों का उल्लंघन किया था।
दूतावास ने जब्त किया पासपोर्ट
फिलहाल, राहफ का पासपोर्ट बैंकॉक में स्थित सऊदी अरब के दूतावास ने जब्त कर लिया है। एक थाई आव्रजन अधिकारी ने पुष्टि की कि सोमवार के सुबह तक राहफ होटल के कमरे में थी। हवाईअड्डे के एक अन्य अधिकारी ने बताया कि कुवैत एयरवेज की फ्लाइट से वह वापस जाने वाली थी लेकिन डर के कारण वह नहीं गई। राहफ ने रॉयटर्स को बताया कि जब उसकी फैमिली गल्फ देश की यात्रा पर गई थी तब वह कुवैत से भाग निकली और वह बैंकॉक से ऑस्ट्रेलिया जाने की प्लानिंग कर रही थी लेकिन जैसे ही वह बैंकॉक एयरपोर्ट पर उतरी उसे हिरासत में ले लिया गया और उसे वापस कुवैत भेजने की तैयारी की जाने लगी।
काम करने को नहीं मिलती आजादी
उसने रविवार को होटल में से एक ट्वीट के जरिये कहा, 'मेरा भाई, परिवारवाले और सऊदी दूतावास के लोग कुवैत में मेरा इंतजार कर रहे होंगे। वे मुझे मार देंगे, मेरा जीवन खतरे में है। मेरा परिवार मुझे मारने की धमकी देता है।' यह पूछने पर कि वह ऑस्ट्रेलिया क्यों जाना चाहती है, इसपर उसने कहा, 'महीनों तक घर के अंदर कैद करके मुझे हर तरह से टार्चर किया जाता था। वे मुझे मारने की धमकी देते हैं और मुझे अपनी शिक्षा जारी रखने से रोकते हैं। मेरे परिवार वाले मुझे गाड़ी चलाने या यात्रा करने नहीं देते हैं। मैं बहुत प्रताड़ित हूं। मैं जीवन और काम से प्यार करती हूं लेकिन मेरा परिवार यह सब करने से रोकता है।
परिवार ने नहीं की कोई टिप्पणी
फिलहाल, राहफ के परिवारवालों ने इन आरोपों पर कोई टिप्पणी नहीं की है। शुरू में राहफ ने बताया था कि उसका परिवार सऊदी समाज में काफी पावरफुल है लेकिन उसने उनकी पहचान नहीं की थी। सऊदी संस्कृति और संरक्षकता नीति के तहत सऊदी अरब में महिलाओं को काम करने, यात्रा करने, शादी करने और यहां तक ​​कि कुछ चिकित्सा उपचार प्राप्त करने के लिए पुरुष रिश्तेदार की अनुमति की आवश्यकता होती है।

 


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.